भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को एक वर्ष में 5 लाख रुपये तक की निश्शुल्क उपचार सुविधा मिलेगी। इसके तहत अधिकतर बीमारियां कवर्ड हैं। योजना का प्रत्येक पात्र हितग्राही को लाभ दिलाने के लिए 'आयुष्मान कार्ड' बनाने का अभियान भोपाल जिले में चलाया जा रहा है। भोपाल जिले में अभी तक पांच लाख 40 हजार लोगों के आयुष्मान कार्ड बनवाए हैं। इस सूची में पात्र हितग्रहियों को जोड़ने के लिए युद्ध स्तर पर अभियान जारी है। आयुष्मान योजना का लाभ सभी पात्र व्यक्तियों को दिलाने के लिए जिले के शहरी क्षेत्र में वार्ड कार्यालय एवं ग्रामीण क्षेत्र में पंचायत भवन में विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस योजना के तहत संबल योजना, खाद्य पर्ची धारक, एसईसीसी डाटा के तहत पात्र परिवार आयुष्मान योजना का सीधा लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

अब पंचायतों एवं नगरीय निकायों के माध्यम से भी कार्ड बनाए जा रहे हैं। योजना के तहत शासकीय अस्पतालों में इलाज करवाने पर 60 प्रतिशत व्यय केंद्र सरकार एवं 40 प्रतिशत व्यय राज्य सरकार उठाती है। वहीं निजी चिकित्सालयों में इलाज कराने पर शत-प्रतिशत भुगतान शासन उठाती है। अब तक 561 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान शासन आयुष्मान कार्डधारियों के इलाज पर कर खर्च चुका है।

717 अस्पतालों में कैशलेस उपचार सुविधा

योजना के तहत प्रदेश के कुल 717 शासकीय एवं संबद्ध निजी चिकित्सालयों में पात्र हितग्राहियों को कैशलेस उपचार की सुविधा है। अब इसके तहत कोविड का इलाज भी किया जा रहा है। इस योजना से अधिक से अधिक निजी अस्पतालों को भी जोड़ा जा रहा है ताकि मरीजों को उनकी सुविधा के अनुसार सभी जगह इलाज मिल सके।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local