भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी में बिल्डरों द्वारा लुभावने सपने दिखाकर फ्लैटों को बेच दिया जाता है, लेकिन सालों बाद भी वादों के मुताबिक सुविधाएं मुहैया नहीं कराई जाती। इनका खामियाजा भी रहवासियों को ही भुगतना पड़ता है। ऐसा ही मामला अवधपुरी, वार्ड क्रमांक 60 स्थित सौम्या पार्क लैंड कॉलोनी में सामने आया है। यहां दीपावली की रात (बीती 14 नबंवर) को बड़ी आगजनी की घटना घटी। बिल्डर द्वारा फायर सेफ्टी के लगाए गए उपकरण भी काम नहीं आए और घर में रखा सामान जलकर खाक हो गया। रहवासियों ने बताया कि यदि उपकरण दुरूस्त स्थिति में होते तो आग को तत्काल काबू पाया जा सकता था। बता दें कि यह आग भी बहुमंजिला इमारत 11 नंबर ब्लॉक के टॉप फ्लोर स्थित फ्लैट में आग लग गई थी।

सालों बाद भी नहीं ली फाइनल फायर एनओसी

नवदुनिया ने मामले की पड़ताल में पाया कि सालों बाद भी बिल्डर ने अब तक अंतिम फायर एनओसी भी नहीं ली है। जबकि नियमों के तहत रहवासियों को पजेशन के पहले यह एनओसी ली जानी थी। नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि नेशनल बिल्डिंग कोड के तहत फायर सेफ्टी के नियम है। इसके तहत नगर निगम से फायर एनओसी लेना जरूरी होता है। नगर निगम के फायर शाखा के अधिकारी इससे मौके पर जांचते हैं। इनकी रिपोर्ट भी तैयार की जाती है। सभी उपकरण चालू हालत में होने के बाद ही एनओसी जारी की जाती है। इसके बाद हर साल संबंधित बिल्डर को नगर निगम की फायर शाखा को उपकरणों संबंधित सत्यापन पत्र भी देना होता है। फायर अधिकारी रामेश्वर नील ने बताया कि मामले पर नोटिस जारी किया जाएगा।

उपकरण तो लगाए पर एक बार भी टेस्टिंग नहीं

सौम्या पार्क लैंड रहवासी समिति के कार्यवाहक अध्यक्ष रूपेश जैन ने बताया कि रहवासियों को पजेशन तो दिया गया, लेकिन एक बार भी इसकी टेस्टिंग नहीं कराई गई। उन्होंने बताया कि फायर टेस्टिंग नहीं होने और इससे संबंधित कागजों के बिना रहवासी समिति ने प्रोजेक्ट को हैंडओवर लेने से भी इंकार कर दिया है। इस मामले में कई बार बिल्डर व समिति के बीच बातचीत भी की गई। बता दें कि फ्लैट में लगी भयानक आग के कारण का भी खुलासा नहीं हो सका है। जैन ने बताया कि कुछ लोग अतिशबाजी के कारण तो कुछ दीये से आग भड़कने की बात कह रहे हैं।

वर्जन-

फायर सेफ्टी के उपकरण को चेक कराया जाएगा। सुविधाओं को लेकर रहवासी समिति से चर्चा भी समय-समय पर होती है। जो भी अनुमतियां संबंधित कार्यवाही है उन्हें भी पूरा कर लिया जाएगा।

संजय सिन्हा, बिल्डर, सौम्या होम्स प्राइवेट लिमिटेड।

Posted By: Lalit Katariya

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस