भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शुक्रवार को इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट आफ फैशन डिजाइन (आइएनआइएफडी) के दीक्षा समारोह का आयोजन एमपी नगर स्थित एक होटल में किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में मिस इंडिया इंटरनेशनल जोया अफरोज मौजूद रहीं। इस दीक्षा समारोह में फैशन और इंटीरियर डिजाइन के वर्ष 2018 से 2021 तक पासआउट करीब 140 बच्चों को सर्टिफिकेट दिए गए। वहीं कार्यक्रम की अगली कड़ी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की झलकियां खास रहीं।

समूह नृत्य में सेनोरिटा, कहो न प्यार है... रहा खास

संस्कृतिक प्रस्तुतियों में विद्यार्थियों ने ग्रुप डांस परफार्मेंस के माध्यम से दर्शकों की खूब तालियां बटोंरी। सांस्‍कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत गणेश वंदना से हुई। इसके बाद हिंदी फिल्मी गीतों पर युवा छात्र-छात्राओं ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां देते हुए दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। जिसमें कहो न प्यार है का टाइटल सांग, फिल्म दिल चाहता है के गीत और जिंदगी न मिलेगी दोबारा का सेनोरिटा पर थिरकते कदमों ने दर्शकों को नाचने पर मजबूर कर दिया। इसके साथ ही इसमें फ्यूजन और रील्स सांग भी देखने को मिले। अंत में डीजे म्यूजिक पर मस्ती और धमाल का तड़का लगाकर स्टूडेंट्स ने जमकर आनंद लिया।

बुंदेली समेत अन्य लोकबोलियों में प्रसारण पुन: प्रारंभ

अखिल भारतीय बुंदेलखंड साहित्य एवं संस्कृति परिषद और अन्य बोली प्रेमियों के सघन और सतत विरोध के बाद भारत सरकार ने आदेश जारी कर आकाशवाणी के भोपाल ,छतरपुर, जबलपुर, ग्वालियर केंद्रों से रोका गया बुंदेली में प्रसारण गुरुवार से प्रारंभ कर दिया है। साथ ही रीवा से बघेली व इंदौर से मालवी में कार्यक्रम शुरू हो गया है। शाम 7.20 से 8 बजे की अवधि में ग्राम सभा के कार्यक्रम अब बुंदेली में पूर्ववत बनेंगे व प्रसारित होंगे। अखिल भारतीय बुंदेलखंड साहित्य एवं संस्कृति परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद्मश्री कैलाश मड़बैया ने केंद्र सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जनविरोधी आदेश वापस लेकर सरकार ने लोकतंत्र को संबल प्रदान किया व उदारता प्रस्तुत की है। उन्‍होंने मीडिया को भी धन्यवाद दिया है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close