Bhopal News: संत हिरदाराम नगर, नवदुनिया प्रतिनिधि। संत हिरदाराम इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट ने छात्राओं के लिए पारंपरिक पोशाक प्रतियोगिता का आयोजन किया। छात्राओं ने भारतीय संस्कृति से ओतप्रोत पोशाक पहनकर संस्कृति को संरक्षित करने का संदेश दिया।

छात्राओं ने जहां भारत में पहने जाने वाले रंगीन परिधानों का प्रदर्शन किया। भारत अपनी संस्कृति और रंगीन परिधानों के लिए जाना जाता है जो क्षेत्र की विभिन्न भौगोलिक, जलवायु और सांस्कृतिक परंपराओं के अनुसार भिन्न होते हैं। इन पोशाकों की अपनी कहानियां हैं जो इसे पहनने वालों के लिए एक सामान्य पहचान और आनंदमय बंधन बनाने का काम करती हैं। इस प्रतियोगिता की थीम कलर्स ऑफ इंडिया थी। जिसमें छात्राओं ने विभिन्न पारंपरिक पोशाक पहनी थी - जैसे कि बंगाली, गुजराती, असमिया कश्मीरी, पंजाबी, महाराष्ट्रीयन आदि। प्रतियोगिता के माध्यम से छात्राओं ने अनेकता में एकता भारत की विशेषता का संदेश दिया। पोशाक प्रतियोगिता मेंअनेक छात्रोंओ ने भाग लिया। छात्राएं स्पर्धा के लिए उत्साहित नजर आई। मंच पर विभिन्न सांस्कृतिक पोशाक पहनकर पहुंची छात्राओं का मौजूद अन्य छात्राओं ने उत्साह वर्धन किया।

निर्णायक मंडल के अनुशंसा पर मिले पुरस्कार

इस प्रतियोगिता ने भोपाल के प्रसिद्ध फैशन स्टोर कारीगरी की संचालक सैली वलेचा निर्णायक की भूमिका में थी। कल्चरल क्लब के सदस्यों ने डॉ. कोमल तनेजा के मार्गदर्शन में इस कार्यक्रम का आयोजन किया एवं विजेताओं को पुरस्कार और प्रमाण पत्र से सम्मानित किया। संस्थान के निदेशक डॉ. आशीष ठाकुर ने छात्राओं को शुभकामनाएं दी। अपने संबोधन में डॉ ठाकुर ने कहा कि भारतीय संस्कृति में विविधता है अनेक भाषाओं और जातियों के बावजूद सभी भारतीय हैं हम सबको मिलकर भारत की एकता अखंडता के लिए काम करना है और संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए काम करना है। प्रतियोगिता के दौरान बड़ी संख्या में छात्राएं एवं गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close