भोपाल। चीन समेत दुनियाभर में फैले चुके कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया में अफवाहों का बाजार गर्म है। सोशल मीडिया पर इस वायरस के बारे में तरह-तरह की गलत न्यूज व अफवाहें फैली हैं। लोग बिना सच्चाई जाने गलत जानकारी भी सैकड़ों लोगों को साझा कर रहे हैं। इससे लोगों में बेवजह खौफ का माहौल बन गया है।

लिहाजा जागरण न्यू मीडिया की फैक्ट चेकिंग यूनिट विश्वास न्यूज की ओर से शनिवार को 'सच के साथी: हेल्थ फैक्ट चेक' अभियान के तहत भोपाल में दो कार्यशालाओं का आयोजन किया गया। पहला सत्र सुबह 10 से 12 बजे और दूसरा शाम 3 से 5 बजे के बीच हुआ। इसमें शामिल लोगों को विश्वास न्यूज के सर्टिफाइड और प्रशिक्षित पत्रकारों ने सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही भ्रांतियों और अफवाहों के प्रति जागरूक किया।

विशेषज्ञों ने बताया कि वीडियो की पहचान के लिए www.invid-project.eu, लिखित सामग्री परखने के लिए www.snopes.com की मदद ली जा सकती है। कार्यशाला का नेतृत्व जागरण न्यू मीडिया और विश्वास न्यूज के एडिटर-इन-चीफ राजेश उपाध्याय और प्रशिक्षित फैक्ट चेकर्स अभिषेक पाराशर ने लोगों को प्रशिक्षण दिया। 'सच के साथी: हेल्थ फैक्ट चेक" की यह दूसरी कार्यशाला थी।

इससे पहले दिल्ली में 20 फरवरी को कार्यशाला आयोजित की गई थी। इसके बाद चंडीगढ़, लखनऊ, पटना और वाराणसी में भी इन कार्यशालाओं का आयोजन होगा। इसकी जानकारी और पंजीकरण की प्रक्रिया विश्वास न्यूज की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

प्रतिभागियों को कोरोना वायरस से बचने के उपाय भी बताए गए। कार्यक्रम के अंत में एक प्रश्नोत्तरी का आयोजन करते हुए लोगों को सर्टिफिकेट भी प्रदान किए गए। प्रतिभागियों को कोरोना वायरस से जुड़ी सावधानियां अपने परिजन व रिश्तेदारों को भी समझाने का संकल्प दिलाया गया।

Posted By: Sandeep Chourey