Bhopal News: भोपाल ( नवदुनिया प्रतिनिधि )। शहर के कांग्रेस नगर में निगम के क्वार्टर में अवैध कब्जा होने का मामला सामने आया है। यहां कब्जा ऐसे लोगों का है जो नगर निगम के कर्मचारी है ही नही।। राजनीतिक संरक्षण के चलते यहां सालों से रह रहे है। यहां तक की निगम का टैक्स भी नहीं भरते है और यहां रहने का कोई शुल्क भी नहीं चुका रहे है। इस मामले की शिकायत के बाद की गई जांच में पुष्टि होने पर नगर निगम आयुक्त केवीएस चौधरी कोलसानी ने शहर में नगर निगम के सरकारी क्वार्टरों की जांच के आदेश दिए है। निगम के पास वर्तमान में 150 से अधिक आवेदन सरकारी क्वार्टर के लिए लंबित है। सरकारी क्वार्टरों की जांच का जिम्मा कुर्क आमीन अवध मकोरिया सहित अन्य कर्मचारियों की एक टीम को सौंपी गई है, जो 500 से अधिक क्वार्टरों की जांच करेगी। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि नगर निगम के 25 प्रतिशत क्वार्टरों में अवैध कब्जा है। यहांं पर यह अवैध रुप से रह रहे है।

हो चुका है विवाद

28 जुलाई को नगर निगम आयुक्त ने मुख्य स्वच्छता निरीक्षक सुमनधर शर्मा को निलंबित कर दिया था। शर्मा ने सरकारी क्वार्टर की जांच करने पहुंचने निगम के कुर्क आमीन के साथ बदसलूकी की थी। इसकी शिकायत मकोरिया में अजाक थाना सहित अन्य वरिष्ठ अफसरों से भी की है। इस मामले के बाद संभागायुक्त ने मकोरिया में शहर में मौजूद नगर निगम के सभी क्वार्टरों की जांच का जिम्मा सौंपा है। वहीं एक सप्ताह में इसकी रिपोर्ट देने के लिए भी कहा है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local