भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। मंडी में किसान अब अपनी फसल का अधिकतम मूल्य, सही तौल और नकद भुगतान समय पर प्राप्त करें। यह अपील कृषि उपज मंडी समिति ने फसल बेचने के लिए आने वाले किसानों से की है। मंडी ने सभी किसानों से कहा है कि अपनी कृषि उपज में खुले विक्रय में नीलामी के द्वारा प्रतिस्पर्धात्मक मूल्य पर ही मंडी के अनुज्ञप्तिवारी व्यापारियों को मप्र कृषि उपज मंडी अधिनियम-1972 की धारा 37 के तहत अनुबंध निष्पादित करके ही विक्रय करें। किसान द्वारा विक्रय की गई उपज का भुगतान यदि उसी दिन व्यापारी द्वारा नहीं किया जाता है तो उसकी सूचना तत्काल मंडी प्रागंण में स्थापित शिकायत कक्ष में दर्ज कराएं। शिकायत मिलने पर किसान को तत्काल उसी दिन फसल का भुगतान दिलवाया जाएगा। इसके अलावा मंडी में किसी तरह की कोई समस्या किसान को होती है, तो वह मंडी समिति से मदद ले सकते हैं। इसके लिए मंडी में शिकायत निवारण कक्ष भी बनाया गया है।

प्राकृतिक खेती के लिए करें आनलाइन पंजीयन

सरकार द्वारा प्रदेश में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए उच्च स्तर पर बहुत सारे कार्यक्रम चलाए जाने का निर्णय लिया गया है। इसी क्रम में प्राकृतिक खेती करने की इच्छा रखने वाले किसानों को पंजीयन के लिए पोर्टल तैयार किया गया है। किसानों को प्राकृतिक खेती करते हेतु आनलाइन पंजीयन करने के लिए निम्न प्रक्रिया अपनाने की अपील की गई है। किसान सर्वप्रथम अपने मोबाइल पर विभागीय वेबसाइट https://linkprotect.cudasvc.com पर जाएं। इसके बाद वेबसाइट के होम पेज पर दी गई लिंक पर किसान पंजीयन के लिए क्लिक करें। पंजीयन तीन चरण में होगा, जिसमें किसान की जानकारी, मोबाइल का वेरीफिकेशन एवं अन्य जानकारी फीड कर जानकारी सबमिट करें। प्रक्रिया पूर्ण कर लेने पर किसान का प्राकृतिक खेती के लिए पंजीयन हो जाएगा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close