भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। अक्‍सर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली भोपाल से लोकसभा सदस्‍य साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने एक बार फिर ऐसा बयान दिया है, जिस पर विवाद उठना लाजिमी है। शनिवार को शहर में आयोजित ट्रेन कंट्रोलरों के अधिवेशन में मंच से बोलते हुए साध्‍वी प्रज्ञा ने एडीआरएम गौरव सिंह पर दर्ज दुष्‍कर्म प्रकरण का जिक्र भी छेड़ दिया और यहां तक कह गईं कि इस मामले में आरोप लगाने वाली महिला रेल कर्मी की भी गलती है। किसी भी पुरुष को, पुरुष होने की सजा नहीं मिलनी चाहिए।उन्‍होंने इस संदर्भ में महिला की गलतियां गिनाते हुए कई तर्क दिए हैं। इसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

साध्‍वी प्रज्ञा ने कहा कि है कि लोभ व लालच में आकर महिला ने खुद को एक से डेढ़ वर्ष तक समर्पित कर दिया। फिर दुष्कर्म का आरोप लगा रही है, यह गलत है। इसमें कहीं न कहीं महिला की भी सहमति और गलती थी। ऐसा नहीं करना था, जो कुछ हुआ उससे रेलवे की छवि धूमिल हुई है। जिस संस्था में हम काम करते हैं, उसके साथ हमें ऐसा नहीं करना चाहिए। उसके सम्मान का ध्यान रखना चाहिए।

सांसद ने कहा कि हम जिस संस्था में काम करते हैं वह हमारी माता के सामान होती है। जब हम स्नेह रखकर अपनी संस्था के लिए काम करते हैं तो हमें भी उसका स्नेह उतना ही मिलता है। ऐसी मां बदनाम न हो, इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए। किसी भी पुरुष को, पुरुष होने की सजा नहीं मिलनी चाहिए। मैं इसके पक्ष में नहीं हूं। यहां पर यह बता दें कि एडीआरएम गौरव सिंह पर पिछले दिनों भोपाल रेल मंडल की एक महिला रेलकर्मी ने यौन शोषण के आरोप लगाए थे और हाथ की नस काटते हुए खुदकुशी की कोशिश की थी। जिसके बाद एडीआरएम पर दुष्कर्म का केस भी दर्ज हो चुका है और पुलिस जांच कर रही है। वहीं रेलवे ने एडीआरएम का भोपाल रेल मंडल से चेन्नई तबादला कर दिया हैं।

साध्‍वी ने कहा, कोई अन्याय करता है तो मुझे बताएं

सांसद ने कहा कि महिलाओं के साथ कोई भी अन्याय करता है तो संबंधित महिलाएं मुझे बता सकती हैं। पूरी मदद करेंगे। यदि मुझे नहीं बता सकती, तो भोपाल में और भी जनप्रतिनिधि हैं, इन्हें भी न बताना हो तो अपने घर, परिवार या विभाग के मुखिया को बताएं। सांसद का कहना था कि महिला रेलकर्मी पूर्व में यही बात डीआरएम को बता सकती थी, पुलिस में शिकायत कर सकती थी या हम भी भोपाल में ही रहते हैं, हमें भी बताया जा सकता था लेकिन ऐसा नहीं किया गया।

गलत करने वालों को मिले दंड

सांसद ने यह भी कहा कि महिलाओं के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कठोर ठंड मिलेगा। कानून व्यवस्था यह काम कर रही हैं। उन्होंने यह भी कहा कि एडीआरएम हो या कोई और हो, यदि गलत किया है और करेंगे तो छोड़ें नहीं जाएंगे।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close