भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी के सबसे प्रतिष्ठित हाकर्स कार्नर को लेकर स्थानीय भाजपा पार्षद और कांग्रेस नेता के बीच जमकर ठन गई है। लिहाजा नगर निगम आयुक्त केवीएस चौधरी के निर्देश पर यहां फिर से सर्वे करवाया जा रहा है। स्थानीय जोनल अधिकारी अनिल शर्मा को सर्वे कर रिपोर्ट देने को कहा गया है। आयुक्त के स्पष्ट निर्देश है कि पूर्व में बनी सूची के अलावा बाकी लोगों को हटाया जाए, ताकि यहां पर होने वाली असामाजिक गतिविधियों पर अंकुश लग सके। बताया जा रहा है कि कुछ बड़े अधिकारियों के पास मंत्रालय में बैठने वाले आला अधिकारियों के फोन गए हैं, जिसके बाद यहां कार्रवाई की जा रही है।

दरअसल, इस हाकर्स कार्नर पर कई ऐसे असामाजिक तत्वों का कब्जा हो गया है, जो यहां पर रखी दुकानों को किराए पर चला रहे हैं। एक व्यक्ति के द्वारा तीन से चार दुकानें रखी गई हैं और यही विवाद की जड़ है। उधर स्थानीय पार्षद पर दुकानदारों से वसूली के आरोप लगे हैं। इसको लेकर कांग्रेस नेता अशोक मीणा ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है तो वहीं अशोक मीणा के खिलाफ पार्षद समर्थकों ने शिकायती पत्र देकर वसूली के आरोप लगाए हैं। अब सर्वे कराने के बाद उन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होगी, जो यहां पर एक से अधिक दुकान रखकर इसका दुरुपयोग कर रहे हैं। इस बीच शुक्रवार को भी स्थानीय पार्षद और दुकानदारों के बीच एक बार फिर से ठन गई। इसके बाद दोनों पक्षों ने महापौर मालती राय के समक्ष अपनी बात रखी है।

असामाजिक तत्वों का जमावड़ा

इस हाकर्स कार्नर पर शाम के समय युवाओं और असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है। जिसकी वजह से इस हाकर्स कार्नर पर स्वजन के साथ आने वाले लोगों को असुविधा होती है। साथ ही विवाद का भय भी बना रहता है। रात नौ बजे के बाद यहां कारों को पार्क कर लोगों पर शराब पीकर हंगामा करने के आरोप है। यहां असामाजिक तत्वों से सबसे अधिक परेशानी 1100 क्वाटर्स में रहने वाले परिवारों की है।

हर साल होता है फूड फेस्टिवल

कैंपियन स्कूल के पास बने इस हाकर्स कार्नर के दोनों तरफ हरियाली है तो एक तरफ विसर्जन घाट बना है। सामने शाहपुरा तालाब है जो इस हाकर्स कार्नर की सुंदरता बढ़ता है। नगर निगम हर साल यहां स्ट्रीट फूड फेस्टिवल का आयोजन करता है।

हाकर्स कार्नर को लेकर हम सर्वे करा रहे हैं। यहां असामाजिक तत्वों का डेरा है, जिसके चलते कुछ लोग मुझ पर अनावश्यक आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में हम सर्वे कराने के बाद यहां पर जमे हुए असामाजिक तत्वों को हटाएंगे। मुझ पर जो पैसे लेने के आरोप हैं, वे सरासर विरोधियों द्वारा झूठा लगाया गया है।

- अरविंद वर्मा, पार्षद, वार्ड 48

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close