Bhopal News: भोपाल(नवदुनिया रिपोर्टर)।वर्तमान परिवेश में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्‍थान यानी आइटीआइ के पाठ्यक्रम के प्रति विद्यार्थियों की दिलचस्पी बढ़ी है। इसकी वजह यही है कि आइटीआइ के माध्यम से नौकरी और स्वरोजार के अवसर अधिक हैं। बीई और अन्य विषयों से ग्रेजुएट युवा भी आइटीआइ कर रहे हैं। प्रदेश में आइटीआइ कॉलेजों की संख्या तेजी से बढ़ी है।

वर्तमान में 245 सरकारी और 888 निजी कॉलेज प्रदेश में संचालित हैं, जिनकी सीट अमूमन हर साल भर जाती हैं। चूंकि आइटीआइ को इंजीनियरिंग की प्रारंभिक इकाई माना जाता है, इंजीनियरिंग दिवस के मौके हमने इस पाठ्यक्रम की पड़ताल की है।

यदि सिर्फ सरकारी कॉलेजों की बात करें तो वित्त वर्ष 2019-20 में करीब 30 हजार बच्चों ने आइआइटी का डिप्लोमा पूरा किया था, जिनमें से छह हजार बच्चों को तो संचालनालय राज्य कौशल विकास एवं रोजगार के द्वारा आयोजित कैंपस के माध्यम से विभिन्न कंपनियों में नौकरी मिली। इसके साथ ही 172 विद्यार्थियों को स्वरोजगार मिला है।

वर्ष 2020-21 में अप्रैल में सत्र प्रारंभ होते ही कोविड- 19 का प्रकोप फैल गया, लेकिन संचालनालय की ओर से गूगल मीट से कराई गई ऑनलाइन कैंपस के माध्यम से 615 विद्यार्थियों को प्राइवेट कंपनियों में नौकरी मिली, जिनमें से तीन सौ ने ज्वाइन भी किया, जबकि अन्य 315 कोरोना, लॉकडाउन समेत अन्य कारणों ने नौकरी ज्वाइन नहीं कर पाए। वहीं अधिकतर विद्यार्थियों ने स्वरोजार चुना।

संयुक्त संचालक बीआर विश्वकर्मा ने बताया कि अगस्त में एक कैंपस आयोजित हो चुका और एक होना बाकी है। इस प्रकार लॉकडाउन का संकटकालीन समय में भी आइआइटी वालों को नौकरियों की उम्मीद दिख रही है। बीई करने वाले और अन्य विषयों के ग्रेजुएट भी आइआइटी में दाखिला ले रहे हैं।

दो तरह के होते हैं कोर्स

आइटीआइ में इंजीनियरिंग और नॉन इंजीनियरिंग दो तरह के सौ के करीब डिप्लोमा कोर्स एक से दो साल अवधि के होते हैं। इनमें से इंजीनियरिंग में इलेक्ट्रीशियन, वेल्डर, फिटर, मशीनिस्ट और डीजल मैकेनिक ट्रेड की और नान इंजीनियरिंग में कटिंग सुइंग, ड्रेस मेकिंग और फैशन टेक्नालॉजी की मांग सबसे ज्यादा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020