Bhopal Railway News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे की लापरवाही की वजह से ट्रेन के एसी कोच के बिजली कंट्रोल पैनल का दरवाजा भोपाल के चित्रकार राज सैनी के ऊपर गिर गया। वह छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (सीएसटीएम)-सीतापुर एक्सप्रेस से भोपाल में आ रहे थे। दरवाजे के स्क्रू ढीले होने की वजह से यह इनके ऊपर गिर गया, जिससे उनके सिर और कंधे पर गंभीर चोट आई है। हालांकि, यह अच्छी बात रही कि कहीं कट नहीं लगा, जिससे खून नहीं निकला।

उन्होंने बताया कि ट्रेन इगतपुरी के पास पहुंची थी। इस दौरान वह वाश बेसिन में हाथ धो रहे थे। पास में लगे बिजली पैनल का दरवाजा उन पर गिर गया। उनके सिर में चोट लगी है। उन्होंने यह जानकारी कोच अटेंडेंट को दी। अटेंडेंट ने वहां पर ही लिखे एक नंबर पर शिकायत करने को कहा । उन्होंने फोन किया पर किसी ने उठाया नहीं । दिए गए नंबर पर उन्होंने वाट्सएप भी किया, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। कोच अटेंडर ने फिर से स्क्रू लगाकर दरवाजा बंद कर दिया। इसमें रेलवे की लापरवाही यही रही कि ट्रेन चलने से पहले नियमित मरम्मत और परीक्षण के दौरान दरवाजे के स्क्रू क्यों नहीं देखे गए।

विभाजन विभीषिक को लेकर रानी कमलापति स्टेशन पर डिजिटल प्रदर्शनी आज से

भोपाल। सम्पूर्ण भारतीय रेल में मनाए जा रहे आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के तौर पर याद किया जा रहा है। इस अवसर पर रानी कमलापति स्टेशन पर रविवार सुबह 11 बजे से आयोजित कार्यक्रम में गृह मंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा द्वारा डिजिटल प्रदर्शनी का अनावरण किया जाएगा। इस अवसर पर शहर के बुद्धिजीवी, स्वतंत्रता सेनानी एवं जनसामान्य उपस्थित रहेंगे। इसके अतिरिक्त भोपाल मण्डल के हरदा, होशंगाबाद, रानी कमलापति, सांची, बीना, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी, शाजापुर, व्यावरा-राजगढ़ पर विभाजन विभीषिका स्मृति से सम्बंधित चित्र प्रदर्शनी भी लगाई गई है। इस प्रदर्शनी में चित्रों के माध्यम से विभाजन के समय लोगों के पलायन को दर्शाया गया है। प्रदर्शित चित्रों के माध्यम से वर्तमान पीढ़ी को विभाजन के दौरान लोगों द्वारा झेली गई कठिनाइयों को स्मरण कराने के लिए यह प्रदर्शनी लगाई गई है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close