भोपाल। राजधानी की ई-3/117 अरेरा कॉलोनी में रहने वाले शिवनारायण सिंहल ने अपने पुत्र राहुल आर अग्रवाल के खिलाफ एसडीएम कोर्ट में भरण पोषण देने के लिए केस दर्ज किया था। इस मामले में गुरुवार को एसडीएम हुजूर राजेश श्रीवास्तव ने फैसला सुनाते हुए एक हजार रुपए प्रतिमाह अपने माता-पिता को देने के आदेश राहुल आर अग्रवाल को दे दिए है। हैरत की बात तो यह है कि सुनवाई के दौरान सामने आया कि राहुल आर अग्रवाल ई-3/293 में किराए से रहते है। वहीं इनकी पत्नी ने इन पर 12 हजार रुपए प्रतिमाह का भरण पोषण देने के लिए केस लगया है। जिसमें कोर्ट का आदेश हो चुका है।

इसके बावजूद राहुल का कहना है कि वे एक वकील के यहां काम करते है और महज पांच हजार रुपए कमाते है। जबकि माता पिता शिवनारायण सिंहल और इंदिरा सिंहल हमेशा बीमार रहते है और पुत्री और नाती भी साथ में ही रहते है। ऐसे में घर खर्च और सबका भरण पोषण कर पाना मुश्किल है।

कोर्ट में सुनवाई के दौरान 77 वर्षीय शिवनारायण सिंहल ने बताया कि दैनिक खान-पान के अतिरिक्त दवाईयां आदि पर 15 हजार रुपए खर्च होते है। इस पर राहुल ने बताया कि वह एक लोन ले चुका है। जिसकी किश्त भी चुकाने में वह असमर्थ है। ऐसे में कैसे भरण पोषण करने में असमर्थ है।

राहुल ने तो यहां तक बताया कि वह बीमार होने पर अपने माता-पिता को डॉक्टर के पास स्वयं लेकर जाता है। दोनों पक्षों को सुनने के बाद एसडीएम हुजूर ने आदेश सुनाया कि राहुल अब हर माह अपने माता-पिता को एक हजार रुपए भरण पोषण देगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket