भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। वर्तमान में मध्य प्रदेश के मौसम को प्रभावित करने वाली कोई प्रभावी मौसम प्रणाली सक्रिय नहीं है। रात के समय हवा का रुख उत्तरी हो रहा है। सर्द हवाओं के चलते लगातार दूसरे दिन न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। जिसके चलते राजधानी का न्यूननतम तापमान गुरूवार के मुकाबले एक डिग्री सेल्सियस लुढ़क गया। सुबह के समय शहर में कई स्थानों पर कुहासा भी छाया रहा। जिसके चलते एयरपोर्ट पर दृश्यता 1500 मीटर दर्ज की गई। ग्वालियर, चंबल संभाग के जिलों में सुबह कोहरा छाया रहा। शुक्रवार को मध्य प्रदेश में सबसे कम 6.4 डिग्री सेल्सियस तापमान नौगांव में दर्ज किया गया। रायसेन में पारा सात डिग्री सेल्सियस पर रहा।

लगातार सर्द हवाओं के चलने से शहर में रात के समय सिहरन बरकरार है। दिन में भी करीब 15 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने से धूप गुनगुनी लग रही है। शुक्रवार को राजधानी का न्यूनतम तापमान 11.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस कम रहा। यह गुरुवार के न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस की तुलना में 1.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा।

मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि हवाओं का रुख बार-बार बदलकर उत्तरी, उत्‍तर-पूर्वी हो रहा है। रात के समय फिर उत्‍तरी हवाएं चलने से शहर में रात के तापमान में गिरावट होने लगी है। अभी मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहने के आसार हैं। उत्तर भारत में आया एक पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ गया है। वर्तमान में कोई प्रभावी मौसम प्रणाली सक्रिय नहीं है। हवा का रूख उत्तरी है। हवा की गति भी अधिक है। इस वजह से सर्दी बढ़ने लगी है। अभी तापमान में उतार-चढ़ाव का सिलसिला बना रहेगा। गुरुवार को शहर का अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। शुक्रवार को दिन का तापमान 27 डिग्री सेल्सियस से कम दर्ज होने की संभावना है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close