भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। Board of secondary education examination : माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) इस बार बोर्ड परीक्षा को लेकर नए-नए प्रयोग कर रहा है। माशिमं द्वारा परीक्षा संपन्न् कराने से लेकर मूल्यांकन में कई नई व्यवस्था की जा रही है। माशिमं इस बार रिजल्ट और अंकों में पारदर्शिता लाने के लिए मूल्यांकन केंद्रों से ऑनलाइन अंक मंगवाएगा। इसके लिए हायर सेकंडरी और हाईस्कूल की परीक्षाओं का रिजल्ट अब ऑनलाइन तैयार होगा।

इसके तहत परीक्षा के बाद मूल्यांकन केंद्रों से कॉपियों की पूरी जानकारी और अंक सीधे ऑनलाइन माशिमं मुख्यालय भेजना होगा। साथ ही इस बार अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों का माशिमं में लाइव प्रसारण भी होगा । माशिमं यह सभी प्रयोग परीक्षा में नकल और रिजल्ट में गड़बड़ी रोकने के लिए कर रहा है।

वहीं, माशिमं इस साल से पुनर्गणना के साथ-साथ पुनर्मूल्यांकन की व्यवस्था भी शुरू कर रहा है। इसके लिए माशिमं पांच राज्यों दिल्ली, छत्तीसगढ़, हिमाचल, हरियाणा, महाराष्ट्र के दसवीं व बारहवीं बोर्ड परीक्षा के व्यवस्था का जायजा लेकर प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है।

2015 में माशिमं ने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर रायसेन व भोपाल जिले के मूल्यांकन केंद्रों से ऑनलाइन अंक भेजने की प्रक्रिया शुरू की थी, लेकिन बाद में यह बंद हो गया था। ज्ञात हो कि हर जिले में एक समन्वय मूल्यांकन केंद्र बनाया जाता है, जहां बोर्ड परीक्षाओं की कॉपियों की जांच होती है।

गड़बड़ी नहीं होगी और समय भी बचेगा

माशिमं ने परीक्षा के बाद मूल्यांकन केंद्र से अंक ऑनलाइन मांगने का प्रस्ताव तैयार किया है। इससे गड़बड़ी नहीं होगी और समय भी बचेगा। उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन के एक सप्ताह के अंदर रिजल्ट तैयार हो जाएगा और घोषित भी कर दिया जाएगा।

इनका कहना है

इस बार से मूल्यांकन केंद्रों से ऑनलाइन अंक और कॉपियों के रिकार्ड अपडेट होंगे। इससे गड़बड़ियां रुकेंगी और कम समय में रिजल्ट तैयार होगा।

- अनिल सुचारी, सचिव, माशिमं

Posted By: Hemant Upadhyay

fantasy cricket
fantasy cricket