CAB Protest भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने दिल्ली की जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia University) में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध को लेकर केंद्र सरकार और गृहमंत्री पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने जवाहरलाल नेहरू, वल्लभ भाई पटेल, चंद्रशेखर आजाद, डॉ. भीमराव आंबेडकर के समझदार नेतृत्व में खड़े हुए सबसे बड़े लोकतंत्र को धर्म के आधार पर विभाजित करने का काम किया है। दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने ट्वीट कर नितिश कुमार, रामविलास पासवान, नवीन पटनायक, प्रकाश सिंह बादल से सवाल किया कि आपने ऐसा कैसे होने दिया। कृपया इन्हें रोकिए, इससे पहले कि बहुत देर हो जाए। उन्होंने यह भी कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री शाह के कॉर्पोरेट दोस्तों से भी अपील करता हूं कि इस मामले में दखल दीजिए। नारिकता संशोधन कानून वापस लिया जाना चाहिए।

दिग्विजय सिंह ने दिल्ली पुलिस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने स्थानीय नेताओं को गिरफ्तार क्यों नहीं किया, जिन इलाकों में बसें जलाई गईं हैं वो मुस्लिम क्षेत्र नहीं हैं। क्या यह काम दिल्ली पुलिस में शामिल शरारती तत्वों का है। ट्वीट में एक वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि इसमें एक पुलिसकर्मी हाथ में कैन लिए हुए है, इसमें पेट्रोल नहीं तो क्या है? फायर ब्रिगेड कहा हैं? क्या दिल्ली पुलिस के साथ फायर ब्रिगेड नहीं? इसमें उन्होंने सीधे गृहमंत्री से सवाल किया है पुलिसकर्मी ने हाथ में क्या है? इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने कई ट्वीट शेयर किए हैं।

Posted By: Prashant Pandey

fantasy cricket
fantasy cricket