भोपाल। कोलार निवासी एक युवक ने मैरिज साइट पर अपनी हाई-फाई प्रोफाइल डालकर राजस्थान निवासी एक युवती से शादी कर ली। युवती सागर में स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ है। शादी के बाद से युवक और उसके परिजन उससे रुपए की मांग करते आ रहे थे। काफी समय तक महिला ने सभी की मांग पूरी की, लेकिन बाद में रुपए देना बंद कर दिया। इस पर उसके ससुराल वाले उसे प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया है। महिला ने मामले की शिकायत महिला थाने में की। थाने से उक्त मामला परिवार परामर्श केंद्र में काउंसलिंग के लिए भेजा गया है। मामले की एक बार काउंसलिंग भी हो चुकी है, लेकिन कोई हल नहीं निकला।

कोलार निवासी एक युवक ने मैरिज साइट पर 10 लाख रुपए सलाना इनकम और घर से आर्थिक स्थिति संपन्न की प्रोफाइल अपलोड की थी। बेहतरीन प्रोफाइल देखकर राजस्थान के एक परिवार ने सागर के स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ अपनी लड़की की शादी उक्त युवक से कर दी। शादी के बाद लड़की और उसके घरवालों को पता चला कि लड़के ने गलत प्रोफाइल डालकर शादी कर ली। इसके बाद भी तीन साल तक लड़की ने अपने रिश्ते को बचाने का प्रयास किया, लेकिन ससुराल वालों ने उसे प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया।

2015 में हुई थी शादी

2015 में दोनों की धूमधाम से शादी हुई। शादी के बाद जब लड़की ससुराल पहुंची तो पता चला कि लड़के का माह की आय 10 हजार रुपए से भी कम है। वह कांट्रेक्टर का जॉब किसी कंपनी में करता है, जबकि लड़की सागर में स्वास्थ्य विभाग में अधिकारी है। शादी के बाद से लड़का पत्नी से पैसे मांगता था। ससुराल वाले भी लड़की से लाखों रुपए की मांग करने लगे। लड़की ने शुरू में सभी की मांग पूरी की, लेकिन बाद में जब पैसे देना बंद कर दिया तो उसे घर से निकाल दिया गया।

दो बार हुआ मिसकैरेज

अधिकारी लड़की ने बताया कि ससुराल वालों ने उसे मानसिक रूप इतना प्रताड़ित किया कि मानसिक तनाव के कारण दो बार मिसकैरेज हो गया। डॉक्टरों का कहना है कि प्रेग्नेंसी के समय तनाव बिल्कुल न लें, नहीं तो आप मां नहीं बन सकती। उसने बताया कि लड़का कमाता भी कम है और मुझसे पैसे लेकर शराब भी पीता है। इस कारण मैं उसे रुपए नहीं दे रही थी। इस कारण सास व ननद दोनों ने काफी प्रताड़ित किया।

जांच-परख कर शादी करें

मैरिज साइट से गलत रिश्ते होने के काफी मामले आ रहे हैं। मैरिज साइट के प्रोफाइल देखकर रिश्ता तय करें तो पूरी तरह से जांच-परख लें, जल्दबाजी में शादी नहीं करें। इस मामले में भी लड़की वालों ने पूरी जांच-परख नहीं की।

- रिता तुली, वरिष्ठ काउंसलर, परिवार परामर्श केंद्र

Posted By: Nai Dunia News Network