Ranji Trophy Final 2022: मध्य प्रदेश की क्रिकेट टीम 23 साल बाद रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची है। फाइनल में मध्य प्रदेश का मुकाबला मुंबई से होगा। Ranji Trophy का फाइनल मुकाबला बेंगलुरू में 22 जून से खेला जाएगा। मध्य प्रदेश के फैन्स अपनी टीम की जीत की दुआ कर रहे हैं। खिलाड़ियों को बधाई संदेश भेजे जा रहे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए खिलाड़ियों से बात की। शिवराज सिंह ने कहा, ये पड़ाव है, मंजिल अभी बाकी है। फाइनल मैच जीतकर आना, अपना मप्र आपकी प्रतीक्षा कर रहा है। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रणजी ट्राफी के फाइनल में पहुंची मध्य प्रदेश क्रिकेट टीम के कप्तान, कोच और खिलाड़ियों से सोमवार शाम वीडियो कांफ्रेंस द्वारा बातचीत में कही। 22 जून से बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जाने वाले रणजी फाइनल में मप्र की टक्कर मुंबई से होनी है। मुख्यमंत्री ने सवाल किया कि अब तक के सफर में सबसे कठिन मैच कौन सा था, तो खिलाड़ियों ने बताया कि केरल के खिलाफ मुकाबला सबसे कठिन था। यह मैच ड्रा समाप्त हुआ था। दरअसल यह मप्र का आखिरी लीग मैच था। टीम ने 200 ओवर फील्डिंग की थी।

Ranji Trophy Final 2022: मध्य प्रदेश क्रिकेट टीम को शुभकामनाएं देने के लिए यहां क्लिक करें

रनरेट के आधार पर टीम अगले दौर की पात्रता हासिल करती, इसलिए सुबह से मैच के साथ रनरेट के गणित पर सभी की निगाह लगी थी। मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों से बंगाल टीम के साथ हुए मैच के अनुभव पूछे तो खिलाड़ियों ने कहा कि बंगाल के खिलाड़ियों की गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों ही बढ़िया थी। सीएम ने खिलाड़ियों से कहा कि फाइनल मैच का वे किसी तरह का कोई तनाव न लें और जीतकर लौटें। प्रदेश की जनता जीत की प्रतीक्षा कर रही है। मुख्यमंत्री ने टीम के कोच चंद्रकांत पंडित, कप्तान आदित्य श्रीवास्तव से बातचीत की। चौहान ने कहा वे प्रदेश की जनता की ओर से भी खिलाड़ियों को विजय के लिए शुभकामनाएं दे रहे हैं। इस दौरान उन्होंने टीम के खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री निवास आमंत्रित कर सम्मानित करने के विचार की भी जानकारी दी।

बधाई संदेश देने के लिए इमेज पर क्लिक करें

Ranji Trophy Final 2022: मध्य प्रदेश क्रिकेट टीम को शुभकामनाएं देने के लिए यहां क्लिक करें

सीएम चौहान के शब्दों से टीम का हौसला बढ़ा : श्रीवास्तव

मप्र के कप्तान आदित्य श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने हमसे बातचीत करने के लिए समय निकाला और हमारा हौसला बढ़ाया। इससे पूरी टीम का मनौबल बढ़ा है। हम समूह में बैठे थे और उनके सवाल पर सभी ने मिलकर जवाब दिया। अब हम ज्यादा ऊर्जा के साथ खिताबी मुकाबले में उतरेंगे और प्रदेश के लिए खिताब जीतने की कोशिश करेंगे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close