भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। लंबे इंतजार के बाद राजधानीवासियों को रविवार सुभाष नगर आरओबी की सौगात मिल गई है। 40 करोड़ की लागत से निर्मित इस ब्रिज पर सबसे पहले शाम को करीब छह बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का काफिला गुजरा। पीछे हजारों की संख्या में लोग भी थे जिन्होंने पहली बार ब्रिज का अवलोकन किया और ब्रिज के जरिए पटरी पार की। इसी के साथ आम नागरिकों के लिए ब्रिज पर आवागमन शुरू कर दिया गया है। अब सुभाष नगर, अशोका गार्डन के लाखों रहवासियों को रेलवे पटरी पार करने में असुविधा नहीं होगी। जाम का सामना भी नहीं करना पड़ेगा। एमपी नगर समेत नए भोपाल के लोगों को अशोका गार्डन के रास्ते भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म-एक तक पहुंचना बहुत आसान हो गया है। शुभारंभ के पूर्व ब्रिज को रंगारंग रोशनी से जाया गया था। लोगों ने पटाखें जलाकर खुशी मनाई है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने ब्रिज से होकर गुजरने वाले आम नागरिकों का फूल देकर स्वागत किया है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर सुभाषचंद्र बोस की याद में बनाए जाने वाले पार्क का भूमिपूजन भी किया।

विश्वास सारंग बोले- नरेला क्षेत्र के हर कोने तक पहुंचा विकास

चिकित्सा शिक्षा मंत्री व विधायक विश्वास सारंग ने शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित किया। बोले कि जब वह विधायक नहीं बने थे। तब क्षेत्र में नालियां नहीं थी, सड़कें तो गायब जैसी थी। नालों में बाढ़ का पानी भर जाता था। जीवन अस्त-व्यस्त रहता था। जब से वह विधायक बने हैं। नरेला क्षेत्र के हर कोने तक विकास पहुंचा है। ढाई सौ करोड़ की लागत से नालों को पक्का किया है। नालियां बनाई है। जगह के हिसाब से हर कोने तक सड़कों का जाल बिछाया है। उनका लक्ष्य है कि नरेला विधानसभा मप्र की नंबर वन विधानसभा बनें। इसके लिए वह काम कर रहे हैं। सुभाष नगर आरओबी को उन्होंने नरेला समेत भोपाल के नागरिकों को लिए बड़ी सौगात बताई है।बाक्स-

कोरोना गाइड लाइन का पालन भूले

कार्यक्रम में शाम चार बजे से लोगों का जुटना शुरू हो गया था। सुभाष नगर आरओबी से लेकर प्रभात चौराहे तक हजारों की संख्या में लोग जुटे थे। इनमें महिला, पुरूष, वृद्ध शामिल थें हर तरफ से लोगों का हुजूम कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंच रहा था। इनके हाथों में तिरंगा और भाजपा के झंडे थे। इस दौरान लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करने भूल गए। सुरक्षित शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ा दी गईं।

फैक्ट

690 मीटर है लंबाई

641.800 मीटर है आरओबी की रिटेनिंग वाल सहित लंबाई

15 मीटर है चौड़ाई

64 मीटर आरओबी में है रेलवे का हिस्सा

318 मीटर आरओबी में लोक निर्माण विभाग का हिस्सा

झलकियां

- सुभाष नगर आरओबी पर बनाई लघु फिल्म दिखाई गई।

- लघु फिल्म के माध्मय से नेताजी सुभाष चंद्र बोस के योगदान को बताया गया।

- चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बार-बार लोगों से कोरोना गाइडलाइनों का पालन करने के लिए कहा

- भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर आतिशबाजी की और नागरिकों को मास्क भी बांटें।

- दोपहर से शाम छह बजे तक क्षेत्र में आने-जाने वाले नागरिकों को असुविधा का सामना करना पड़ा। छह से रास्ते खोल दिए गए थे।

- आरओबी के ऊपर हजारों की संख्या में लोगों ने मुख्यमंत्री का अभिवादन स्वीकार्य किया।

राजधानी में रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सुभाष नगर आरओबी का लोकार्पण व सुभाष चन्द्र बोस की प्रतिमा का अनावरण किया। इस मौके पर लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव व चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास सारंग मौजूद थे।

Koo App

लोकार्पण से ठीक पहले सुभाष ब्रिज का पुनः निरिक्षण किया #SubhashNagarROB

View attached media content

- Vishvas Kailash sarang (@VishvasSarang) 23 Jan 2022

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि 2003 के बाद से मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने शहरों को एक नहीं कई सौगात दी है। वर्तमान में कोरोना की लहर चल रही है इसलिए सुरक्षित और सावधान रहें। पहली और दोपहर में ज्यादा नुकसान हुआ था फिलहाल इतना नुकसान नहीं हो रहा है फिर भी सतर्क रहने की जरूरत है। शिवराज सिंह चौहान ने टीकाकरण कार्यक्रम के लिए मंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया।

Koo App

मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj ने भोपाल स्थित प्रभात चौराहे के पास सुभाष चंद्र बोस थीम पार्क का भूमि पूजन एवं शिलान्यास तथा नवनिर्मित रेलवे ओवरब्रिज का लोकार्पण किया।

View attached media content

- CM Madhya Pradesh (@CMMadhyaPradesh) 23 Jan 2022

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लोगों को कोरोना हो रहा है लेकिन वह गले के नीचे नहीं उतर रहा है। साधारण सर्दी जुकाम बन कर रह जा रहा है यह कमाल टीकाकरण का ही है। भोपाल स्वच्छता के मामले में पिछड़ रहा है इसलिए मेरी आपसे प्रार्थना है कि सभी लोग सहयोग करें। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शहर के अंदर कोई भी गरीब भूखा ना सोए इसके लिए चलती फिरती रसोई शुरू करेंगे।

गणतंत्र दिवस तक आरओबी पर रोशनी की जाएगी। इसके लिए पूरे ओवरब्रिज को दूधिया रोशनी से रोशन किया जा रहा है। वहीं, रंगरोगन का काम भी किया गया है। लोकार्पण से पूर्व शनिवार रात क्षेत्रीय विधायक और चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास सारंग ने यहां पहुंचकर तैयारियों का निरीक्षण किया था।

राजधानी के लगभग पांच लाख लोगों को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी। उल्लेखनीय है कि 40 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित ब्रिज की लंबाई रिटेनिंग वाल सहित 641.800 मीटर है। चौड़ाई 15 मीटर और रेलवे का हिस्सा 64 मीटर है। लोक निर्माण विभाग का हिस्सा 318 मीटर और रिटेनिंग वाल 259 मीटर है।

Koo App

“नरेला को मिली एक और फ्लाइओवर की सौगात, विश्वास के साथ सिर्फ विकास की बात” #SubhashNagarROB लोकार्पण कार्यक्रम से पूर्व व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया

View attached media content

- Vishvas Kailash sarang (@VishvasSarang) 23 Jan 2022

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local