भोपाल। नईदुनिया स्टेट ब्यूरो। Chief Minister Teerth Darshan Scheme करतारपुर साहिब गुरुद्वारा को तीर्थ दर्शन योजना में शामिल करने के बाद इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (आईआरसीटी) ने यात्रा के संबंध में अध्यात्म विभाग को विस्तृत रोडमैप बनाकर दे दिया है।

सरकार की हरी झंडी मिलने के बाद ट्रेन एक हजार लोगों को लेकर जाएगी, लेकिन करतारपुर की अनुमति गिने-चुने लोगों को ही मिल पाएगी। जो लोग रह जाएंगे, उन्हें स्वर्ण मंदिर के दर्शन करवाकर वापस ले आएंगे, क्योंकि पाकिस्तान हर दिन केवल 400 लोगों को ही आने की अनुमति देता है।

आईआरसीटी के सूत्रों का कहना है कि उन्होंने इस यात्रा के संदर्भ में सरकार को पूरी कार्ययोजना बनाकर दे दी है। यह भी बता दिया है कि हर यात्री के लिए पासपोर्ट सहित जरूरी दस्तावेज आवश्यक रहेंगे। तीर्थ दर्शन योजना में एक ट्रेन में एक हजार यात्रियों को लेकर जाते हैं, करतारपुर साहिब तक ट्रेन से जाने के लिए अंतिम रेलवे स्टेशन पंजाब का गुरदासपुर है।

वहां के बाद यात्रियों को बसों से करतारपुर साहिब तक जाने की योजना बनाई गई है। पाकिस्तान पहुंचने पर वहां प्रति व्यक्ति 20 डालर फीस भी तय की गई है। यह फीस यात्रियों से ली जाएगी अथवा शासन की ओर से आईआरसीटी जमा कराएगा, अभी यह स्पष्ट नहीं है।

आईआरसीटी भोपाल के क्षेत्रीय प्रबंधक केके सिंह ने बताया कि पाकिस्तान हर दिन केवल 400 लोगों को ही आने की अनुमति देता है। इसलिए बड़ी संख्या ऐसे यात्रियों की रहेगी, जिन्हें अनुमति नहीं मिल पाएगी। सुबह जाकर शाम तक वापस लौटने का प्रावधान रखा गया है।

करतारपुर के लिए चार दिन पहले ऑनलाइन अनुमति मिलेगी। मुद्रा विनिमय के लिए एक्सचेंज काउंटर भी बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि यह तय नहीं है कि मप्र से जाने वाले कितने लोगों को एक साथ अनुमति मिल पाएगी। इसलिए यह योजना है कि जो लोग करतारपुर नहीं जा पाएंगे उन्‍हें स्वर्ण मंदिर, बाघा बार्डर एवं अमृतसर के अन्य स्थानों का भ्रमण कराया जाएगा।

Posted By: Hemant Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना