भोपाल (नवदुनिया स्टेट ब्यूरो)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। इस दौरान मध्य प्रदेश में बढ़ते नक्सली खतरे को लेकर शिवराज ने चिंता जताई। सहकारिता, कानून व्यवस्था और ग्रामीण क्षेत्रों में असंगठित अपराधों पर भी बात हुई। चार अगस्त को मुख्यमंत्री एक बार फिर गृहमंत्री से मुलाकात करेंगे। गृहमंत्री से चर्चा में मुख्य विषय प्रदेश में बढ़ते नक्सली खतरे को लेकर रहा। प्रदेश में अब तीन जिले नक्सल प्रभावित हो गए हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश की सीमा में आने वाले नक्सलियों का मूवमेंट छग, महाराष्ट्र और झारखंड से होता है। अंतरराज्यीय सीमा पर और अधिक पुख्ता इंतजाम हों तो प्रदेश में नक्सलियों की आवाजाही स्र्केगी। सीमावर्ती राज्यों में सामंजस्य बनाने पर भी चर्चा की गई। सहकारिता को लेकर प्रदेश में किए जा रहे नवाचार की जानकारी भी दी।

राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर किया विमर्श

दिल्ली रवाना होने से पूर्व शनिवार को दोपहर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत की मुलाकात हुई। मुख्यमंत्री निवास में तीनों के बीच राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर चर्चा हुई। मालूम हो, प्रदेश भाजपा में पैनलिस्ट, प्रवक्ता सहित अन्य कई राजनीतिक नियुक्तियां होनी है। सूत्रों का कहना है कि सरकार और संगठन के इन तीनों प्रमुख नेताओं ने इसी विषय पर विचार-विमर्श किया। बताया जा रहा है कि कुछ लोगों के नाम पर सहमति बनने की स्थिति रही है। आगामी दिनों में ये नियुक्तियां की जाएंगी। News Updating...

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local