हरिद्वार, भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हरिद्वार पहुंचे। गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ चिन्मय पंड्या ने उनका स्‍वागत किया। यहां सीएम शिवराज ने आचार्य श्रीराम शर्मा शांतिकुंज स्वर्ण जयंती वर्ष व्याख्यान माला को संबोधित किया। उन्होंने कहा, परम श्रद्धेय गुरुवर आचार्य श्रीराम शर्मा जी द्वारा मुझे मंत्र दीक्षा प्रदान करने का वह क्षण आज भी याद है, जब उनके सामने पहुंचते ही उनकी कृपा दृष्टि मुझ पर पड़ी और मेरा पूरा शरीर अपार ऊर्जा से भर उठा। उन्होंने मुझे चंदन का टीका लगाया। परम श्रद्धेय गुरुवर का आशीर्वाद और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के संस्कार ने मेरा जीवन ही बदल दिया। गुरुवर की कृपा ऐसी रही कि मुझे सदैव आभास रहता है कि गुरुदेव मुझे देख रहे हैं, आशीर्वाद प्रदान कर रहे हैं। उनके आशीर्वाद से मैं जनसेवा के कार्य में निकल पड़ता हूं।

सीएम शिवराज ने कहा कि परम श्रद्धेय गुरुवर का आशीर्वाद और कृपा हमेशा जीवन के कठिन क्षणों में भी मेरा मार्गदर्शन करता रहा है। मेरा अनुभव है कि जब भी जनसेवा, लोककल्याण के मार्ग में दुविधा आई, बाधाएं आई, तब गुरुदेव की चमकती आंखों ने ही मेरा मार्गदर्शन किया है। पुरानी नींव पर नया निर्माण आवश्यक है। इस नव निर्माण के लिए परोपकारी, देशभक्त, समाज के कल्याण के लिए कार्य करने वाले चाहिए। इसके लिए जो व्यक्ति चाहिए, उसके लिए श्रद्धेय गुरु पं. श्रीराम शर्मा ने विचारों के माध्यम से राह दिखाई।

सीएम शिवराज ने कहा श्रद्धेय गुरु पं. श्रीराम शर्मा आचार्य जी मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में पधारे और मुझे उनके दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हुआ। सच कहूं तो वह क्षण मेरी जिंदगी को बदलने वाला था। राजनीति में आने से पूर्व अन्याय के विरुद्ध मैंने पदयात्रा की और लोग जुड़ते गये। श्रद्धेय गुरु पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य की प्रेरणा से लोगों की जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए जीवन के एक एक क्षण का उपयोग करने का प्रयास कर रहा हूं। यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई मामलों में दुनिया का नेतृत्व कर रहे हैं, जिसमें पर्यावरण संरक्षण भी शामिल है। उन्होंने नारा दिया वन वर्ल्ड, वन सन, वन ग्रिड प्रधानमंत्री का पर्यावरण संरक्षण की दिशा में दृष्टिकोण अद्भुत है। उन्होंने कहा कि परम श्रद्धेय गुरुवर आचार्य श्रीराम शर्मा के आशीर्वाद से मैं पूरे विश्वास के साथ कह रहा हूं कि विश्व को शांति का पथ हमारा देश भारत ही दिखाएगा और हम सभी को इसमें सहभागी होने का सौभाग्य प्राप्त होगा।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local