भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। कंप्यूटर दक्षता परीक्षा (सीपीसीटी) के प्रमाणपत्र की वैधता अब सात साल रहेगी। पहले चार साल हुआ करती थी। यह जानकारी सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार ने बुधवार को मंत्रालय में परीक्षा संचालन संबंधी समीक्षा बैठक में दी।

उन्होंने बताया कि कोरोनाकाल की परिस्थितियों और परीक्षार्थियों की सुविधा को देखते हुए यह निर्णय लिया है। साथ ही निर्देश दिए कि परीक्षा की व्यवस्था को इस तरह बनाया जाए कि परीक्षार्थी का स्कोरकार्ड दूसरे राज्यों की परीक्षाओं में भी मान्य हो। परीक्षाओं के संचालन की रियल टाइम मानीटरिंग और तेजी के साथ परिणाम देने के लिए आधुनिक तकनीकों को अपनाया जाए।

अधिकारियों ने बताया कि प्रमाणपत्र की वैधता अवधि बढ़ने से सहायक ग्रेड तीन, स्टेनो, डाटाएंट्री ऑपरेटर जैसे पदों की भर्ती परीक्षाओं में शामिल होने छात्रों को फायदा होगा। बैठक में अपर मुख्य सचिव विनोद कुमार, सचिव विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी एम सेलवेंद्रन, निदेशक राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड प्रभातराज तिवारी सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags