भोपाल। लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान जहां पूरे देश में राष्ट्रवाद का मुद्दा छाया हुआ है तो वहीं मध्य प्रदेश में किसान कर्जमाफी के मुद्दे पर जमकर सियासत हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने हर भाषण में प्रदेश की कमलनाथ सरकार को कर्जमाफी पर घेर रही है। भाजपा सीधे-सीधे कर्जमाफी को झूठा करार दे रही है। ऐसे में कांग्रेस ने इस पर पलटवार किया है। आज सुबह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल किसानों की कर्जमाफी के सबूत लेकर सीधे शिवराज सिंह के बंगले पर पहुंच गया। जिसने भी ये तस्वीर देखी वो हैरान रह गया। कांग्रेस कार्यकर्ता गाडियों में कर्जमाफी से जुड़े सर्टिफिकेट और फाइलों के बंडल लेकर पहुंचे थे। इस सूची में किसानों का नाम, उनके मोबाइल नंबर, जिस बैंक से लोन लिया गया था उसकी सारी जानकारी है।

इस मौके पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुरेश पचौरी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, "किसानों की कर्जमाफी का मामला छुपा नहीं है। सारी जानकारी ऑनलाइन दर्ज है। शिवराज सिंह और भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है। झूठ परोस रही है। इसलिए हमने आज शिवराज सिंह को किसानों की कर्जमाफी से जुड़ी जानकारी दी है। उन्होंने शिवराज सिंह पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि, जब वो सत्ता में थे तो उन्होंने किसानों का पचास हजार तक का कर्जा माफ करने की बात कही थी। लेकिन वो वादा नहीं पूरा हुआ।"

बता दें कि प्रदेश सरकार ने अब तक 21 लाख किसानों का कर्जा माफ कर दिया है।

Posted By: Saurabh Mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags