भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। देश-प्रदेश के साथ-साथ राजधानी भोपाल में भी शनिवार सुबह कोरोना टीकाकरण के महाअभियान की शुरुआत हो गई। हमीदिया अस्‍पताल में जितेंद्र नामदेव पहले शख्‍स थे, जिन्‍हें कोविशील्‍ड वैक्‍सीन का पहला डोज दिया गया। जितेंद्र हमीदिया के स्‍टोर में हेल्‍पर है। इसी के साथ दूसरे कक्ष में सफाई कर्मी संजय यादव को भी कोरोना का टीका लगाया गया। इस दौरान मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी और चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री विश्‍वास सारंग भी मौजूद रहे।

मुख्‍यमंत्री की मौजूदगी में संजय यादव को टीका लगाया गया।

राजधानी के एम्‍स में पहला टीका डॉ शशांक पुरवार को लगा। वहीं चिरायु अस्‍पताल में हेल्‍पर मिथुन अहिरवार को कोरोना का पहला टीका लगाया गया। संत हिरदाराम नगर में सिविल अस्पताल के अधीक्षक ज्ञानेंद्र अर्गल को लगायी गयी पहली कोरोना वैक्सीन। इस अवसर पर वहां मप्र विधानसभा के सामयिक अध्‍यक्ष रामेश्‍वर शर्मा भी मौजूद रहे। शर्मा ने तिलक लगाकर एवं पुष्प गुच्छ भेंट कर अर्गल को दी बधाई।

पंडित खुशीलाल शर्मा आर्युवेद संस्थान में पहला टीका सुबह 11.11 बजे डॉक्टर अनिल मारवाह को लगा। मारवाह ने टीका लगने के बाद खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि वैक्सीन लगने के बाद भी वे सभी एहतियात बरतेंगे। मास्क लगाने के साथ शारीरिक दूरी का पालन भी करेंगे। भोपाल मेमोरियल अस्‍पताल में पहला टीका तपस चक्रवर्ती को लगाया गया, वहीं सुल्‍तानिया अस्‍पताल में संगीता लोधी को पहली वैक्‍सीन लगाई गई।

गौरतलब है कि शहर में 12 केंद्रों पर शनिवार शाम पांच बजे तक टीकाकरण किया जाएगा। हर केंद्र पर एक दिन में 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा। कुल 1200 कर्मचारियों को टीका लगेगा। टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्यकर्मियों में जबरदस्त उत्साह है।

28 दिन बाद लगेगा दूसरा डोज, इसके 14 दिन बाद बीमारी से लड़ने की आएगी ताकत : स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव मो. सुलेमान ने बताया कि टीका लगवाने का यह मतलब नहीं कि इसके लगते ही कोरोना से बचाव हो जाएगा। पहला डोज लगने के 28 दिन बाद दूसरा टीका लगेगा। इसके 14 दिन बाद बीमारी से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता शरीर में विकसित हो पाएगी।

पंडित खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद संस्‍थान में डॉ अनिल मारवाह को पहला टीका लगा।

बैरागढ़ के सिविल अस्‍पताल में अधीक्षक डॉ ज्ञानेंद्र अर्गल ने पहली वैक्‍सीन लगवाई।

एम्‍स में डॉ शशांक पुरवार ने लगवाया पहला टीका।

चिरायु अस्‍पताल में हेल्‍पर मिथुन अहिरवार को पहला टीका लगाया गया।

भोपाल मेमोरियल अस्‍पताल में तपस चक्रवर्ती को पहला टीका लगाया गया।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags