Coronavirus Bhopal News : भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं। सामुदायिक संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है, इसलिए शहर में एंटीजन टेस्ट की सुविधा भी शुरू की गई है। इसकी रिपोर्ट 30 मिनट के अंदर मिल जाएगी। शुक्रवार को 500 से ज्यादा एंटीजन टेस्ट किए गए हैं, जिसमें दो दर्जन से अधिक लोग पॉजिटिव मिले हैं। इधर, शहर में अब पॉजिटिव मिलने वाले मरीज 13 फीसद तक बढ़ गए हैं। पहले 3 से 4 फीसद लोग ही कोरोना संक्रमित मिल रहे थे, लेकिन 15 जुलाई के बाद से 14 से 17 फीसद तक संक्रमित मिल रहे हैं। इधर, सिर्फ जुलाई महीने में शहर में 3909 संक्रमित मरीज मिले हैं। पिछले तीन महीने में महज 3004 पॉजिटिव मरीज ही मिले थे।

अकेले जुलाई में करीब 3909 मरीज मिल चुके हैं। जुलाई के पहले सप्ताह में 445, दूसरे में 575, तीसरे सप्ताह में 883 तो चौथे सप्ताह में 2006 मरीज मिले हैं। यह संख्या अब तक मिले संक्रमितों के मामले में हर तरह से ज्यादा है।

3 से 4 दिन में होंगे 15 हजार तक एंटीजन टेस्ट

आने वाले 3 से 4 दिन में राजधानी में 15 हजार तक एंटीजन टेस्ट किए जाएंगे। इसके लिए दो दिन में 10 हजार किट राजधानी को मिल जाएंगी, जिससे काम में तेजी आएगी। एंटीजन टेस्ट से संक्रमित क्षेत्रों, कंटेनमेंट, हॉटस्पॉट में रह रहे संक्रमितों की जांच की जाएगी। इसके साथ ही कीमोथैरेपी, ट्रांसप्लांट और ऐसे मरीजों की जांच की जाएगी जिनके ऑपरेशन होने हैं और उन्हें कोरोना रिपोर्ट की जरूरत है। विशेषतौर पर 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों को प्राथमिकता दी जाएगी। पॉजिटिव रिपोर्ट सही मानी जाएगी, लेकिन निगेटिव मरीजों की निगरानी की जाएगी। यदि बाद में मरीज में लक्षण नजर आए तो आरटीपीसीआर से जांच कराई जाएगी। मामले में सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी का कहना है कि करीब एक हजार किट मिली हैं, जिनसे काम शुरू हुआ है। दस हजार और किट मिलने वाली हैं।

जेल भेजने से पहले होगा एंटीजन टेस्ट

राजधानी में सामुदायिक संक्रमण का पता लगाने के लिए एंटीजल टेस्ट अधिक संख्या में करने की तैयारी चल रही है। इसके लिए शहर में दस प्रमुख अस्पताल और पांच सर्किलों में 500 किट बांटी गई हैं। इधर, भोपाल में सिविल और राजस्व कोर्ट से जिस भी अपराधी को जेल भेजने के आदेश होंगे उसे तत्काल जेल नहीं भेजा जाएगा। पहले उसकी रैपिड एंटीजन टेस्ट से कोरोना की जांच की जाएगी। यदि अपराधी की रिपोर्ट निगेटिव आएगी तो उसे जेल भेज दिया जाएगा। यदि पॉजिटिव निकलेगा तो उसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा जाएगा। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने इस संबंध में सभी सर्कलों के एसडीएम सहित सीएमएचओ व अन्य अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। कोर्ट परिसर में भी रैपिड टेस्ट के लिए एक टीम तैनात की जाएगी। दरअसल गुरुवार शाम को कलेक्टर जिले में कोरोना की स्थिति की समीक्षा बैठक ले रहे थे, जिसमें उन्होंने यह निर्देश दिए।

जुलाई में ऐसे बढ़े मरीज

1 जुलाई - 58

2 जुलाई - 53

3 जुलाई - 53

4 जुलाई - 67

5 जुलाई - 74

6 जुलाई - 51

7 जुलाई - 86

8 जुलाई - 44

9 जुलाई - 59

10 जुलाई - 64

11 जुलाई - 99

12 जुलाई -102

13 जुलाई -103

14 जुलाई - 97

15 जुलाई - 72

16 जुलाई -128

17 जुलाई -113

18 जुलाई -140

19 जुलाई -149

20 जुलाई- 155

21 जुलाई-95

22 जुलाई- 215

23 जुलाई- 191

24 जुलाई- 210

25 जुलाई- 221

26 जुलाई- 199

27 जुलाई- 177

28 जुलाई-200

29 जुलाई- 250

30 जुलाई- 218

31 जुलाई- 166

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan