Coronavirus Bhopal News : भोपाल। नईदुनिया स्टेट ब्यूरो। मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया की बुधवार देर रात कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्रालय में हुई कैबिनेट बैठक में शामिल हुए थे। राज्यपाल लालजी टंडन के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री के साथ लखनऊ भी गए थे।

उन्होंने अपने संपर्क में आने वाले लोगों से जांच करवाने की अपील की है। दरअसल, कई नेता कोरोना की रोकथाम के लिए तय प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी का प्रदेश कार्यालय हो या फिर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय, आए दिन राजनीतिक कार्यक्रम होते हैं, जिनमें सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया जाता है और न ही नेता मास्क लगाते हैं। प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव प्रकरण लगातार बढ़ रहे हैं। भोपाल में दस दिन का लॉकडाउन करने की नौबत आ गई है।

इस स्थिति के लिए वह लापरवाही ज्यादा जिम्मेदार है, जो सामाजिक व्यवहार की वजह से बन रही है। सरकार से लेकर स्वास्थ्य विभाग लगातार अपील कर रहा है कि अनावश्यक रूप से बाहर न घूमें। मास्क पहनें और दो फीट की शारीरिक दूरी बनाकर रखें, लेकिन आमजन के साथ-साथ जिम्मेदार लोग भी इसका पालन नहीं कर रहे हैं।

मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मंत्रीगण क्षेत्र में लगातार दौरे कर रहे हैं इस दौरान न तो शारीरिक दूरी का पालन हो किया जा रहा है और न ही मास्क लगाए जा रहे हैं। पिछले दिनों सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया जब क्षेत्र के दौरे पर गए थे तो उन्होंने सभाएं कीं, लेकिन मास्क नहीं लगाया। मंत्रालय में कार्यभार संभालने के दौरान साथी नेताओं से गले मिले। वायरल हुए एक फोटो में भदौरिया इंदौर जिला कांग्रेस अध्‍यक्ष राजेश सोनकर को गले लगाते नजर आए हैं। अकेले भदौरिया ही नहीं, वरिष्ठ मंत्री गोपाल भार्गव, डॉ. नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल, तुलसीराम सिलावट सहित कई मंत्री बिना मास्क लगाए अक्सर देखे जाते हैं। इनके घर व कार्यालय में कार्यकर्ताओं की भीड़ भी बनी रहती है।

वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ हों या फिर अन्य नेता, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का कम ही इस्तेमाल करते हैं। यही स्थिति भाजपा नेताओं की भी है। 26 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के कारण दोनों राजनीतिक दलों के प्रदेश कार्यालयों में लोगों का आना-जाना बढ़ा है पर कोरोना से बचाव को लेकर लापरवाही बरती जा रही है। कैबिनेट बैठक में भदौरिया के आसपास जो भी लोग बैठे थे, वे गुरुवार को भी सक्रिय रहे।उधर, मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ वन-टू-वन बैठक की। उधर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत ने अपने दो दिन के कार्यक्रम निरस्त कर दिए हैं।

मंत्री सकलेचा भी हुए थे पॉजिटिव

भदौरिया के पहले मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा भी कोरोना पॉजिटिव हुए थे। राज्यसभा चुनाव के वक्त सकलेचा के पॉजिटिव होने की बात सामने आई थी। इससे उन विधायकों में हड़कंप मच गया था, जो उनके संपर्क में आए थे। देर रात सभी जांच कराने पहुंचे थे। हालांकि, कोई अन्य विधायक कोरोना पॉजिटिव नहीं निकाला था।

मुख्यमंत्री हर बैठक में देते हैं निर्देश

मुख्यमंत्री प्रतिदिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति और रोकथाम के कार्यों की समीक्षा करते हैं। इस दौरान शारीरिक दूरी का पालन करने और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क अनिवार्य रूप से लगाने के निर्देश का पालन कराने के लिए कहते हैं। गृह और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आदेशों में भी इसका स्पष्ट रूप से उल्लेख रहता है। पुलिस द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नहीं लगाने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई भी की जाती है।

इनका कहना है

कोरोना से सारी दुनिया जूझ रही है। प्रत्येक नागरिक मास्क पहने और सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करे। इसकी उपेक्षा अच्छी बात नहीं है। नेताओं से तो इसका अनुपालन और भी अधिक अपेक्षित है।

दीपक विजयवर्गीय, मुख्य प्रवक्ता, प्रदेश भाजपा

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020