भोपाल । Coronavirus Bhopal Update : लाॅकडाउन के कारण माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की परीक्षाएं तो निरस्त कर दी गई। वहीं उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य भी शुरू नहीं हो पाया है। इसे देखते हुए मंडल ने घर पर ही उत्तर पुस्तिकाओं की जांच कराने का निर्णय लिया है। मंडल ने गुरुवार को निर्देश जारी कर कहा कि 22 अप्रैल से 10वीं व 12वीं की काॅपियों को शिक्षक घर पर ही जांचेंगे, जिससे रिजल्ट जल्द तैयार किया जा सके। यह प्रक्रिया मंडल द्वारा करीब 30 साल बाद फिर से शुरू की जा रही है।

गौरतलब है कि इस साल दोनों परीक्षाओं में साढ़े 19 लाख विद्यार्थी शामिल हुए हैं। दोनों कक्षाओं की 1 करोड़ 20 लाख काॅपियों का मूल्यांकन होना है, जबकि काॅपियों का मूल्यांकन 21 मार्च से शुरू होने वाला था, लेकिन लाॅकडाउन के कारण अब तक मूल्यांकन कार्य शुरू नहीं हो पाया है।

30 साल बाद फिर शुरू होगा ऐसा मूल्यांकन

मंडल द्वारा 1988-89 तक शिक्षकों के घर ही बोर्ड परीक्षाओं की काॅपियां जांचने के लिए भेजी जाती थीं, लेकिन मूल्यांकन में गड़बड़ी के आरोप लगते थे। इसके चलते मंडल ने 1989 के बाद केंद्रीय मूल्यांकन की व्यवस्था की थी। सबसे पहले मंडल मुख्य विषयों की काॅपियों का केंद्रीय मूल्यांकन कराता था, शेष विषयों की काॅपियां शिक्षकों के घर पर भेजता था।

1990 के बाद पूरी तरह से मंडल में केंद्रीय मूल्यांकन की व्यवस्था शुरू की गई। अब कई सालों बाद ऐसा होगा जब मंडल बोर्ड परीक्षाओं की काॅपियां शिक्षकों के घर जांचने के लिए भेजेगा। मंडल के अधिकारियों का कहना है कि 3 मई के बाद यदि लाॅकडाउन खत्म होने की स्थिति स्पष्ट होती है तो 10वीं व 12वीं के शेष बचे पेपर के लिए टाइम टेबल जारी किया जा सकता है।

- 10वीं-12वीं की काॅपियों का मूल्यांकन शिक्षक घर पर ही करेंगे। इसके निर्देश जारी कर दिए गए हैं। लाॅकडाउन के कारण मूल्यांकन अभी तक शुरू नहीं हो पाया था। - अनिल सुचारी, सचिव माशिमं

Posted By: Sandeep Chourey

NaiDunia Local
NaiDunia Local