Coronavirus in Bhopal : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल में कोरोना वायरस के संक्रमित आठ जमाती अब भोजन को लेकर तरह- तरह की मांग करने लगे हैं। शनिवार को नगर निगम द्वारा दिए जा रहे फूड पैकेट्स को उन्होंने खाने से मना कर दिया और अपने लिए बिरयानी और फल मांगे। यही नहीं, यह जमाती निगम के फूड पैकेट्स को देखकर अस्पताल के स्टाफ से कह रहे हैं कि यह क्या घास-फूस खिला रहे हो? जिला प्रशासन के सूत्रों के मुताबिक, जमातियों को जब भी कोई नर्स या डॉक्टर दिखाई देते हैं तो अपनी जेब में रखी पर्ची निकालते हैं और रिश्तेदार की तबीयत खराब होने की बात कहते हुए दवाइयां मांगते हैं। यहीं हाल हज हाउस में रखे गए जमातियों का भी है। वे भी इसी तरह की मांग कर ड्यूटी में लगे अफसरों को परेशान कर रहे हैं। दरअसल, भोपाल में वर्तमान में 32 जमात हैं।

एक जमात में 10 लोग होते हैं। इस तरह 320 लोग भोपाल में बाहरी हैं। इसमें से सात जमातें विदेश से आई हैं। यानि शहर में 70 विदेशी मुस्लिम हैं। इन्हें रोटियां पसंद नहीं हैं। नगर निगम व भोजन उपलब्ध कराने वाली टीम इन्हें पूड़ी सब्जी का पैकेट देते हैं, लेकिन ये खाने से मना कर रहे हैं। हालांकि नमाज के लिए अस्पताल के अंदर ही ये लोग शरीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए नमाज पढ़ रहे हैं।

संक्रमित जमातियों को सर्दी-जुकाम

चिरायु अस्पताल में भर्ती जमात के पॉजिटिव पाए गए आठ लोगों को सिर्फ सर्दी-जुकाम है। कोरोना वायरस के अन्य लक्षण जैसे तेज बुखार और सूखी खांसी या सांस फूलने की शिकायत इन्हें नहीं है। शुक्रवार को म्यांमार के जमातियों का व्यवहार ठीक था लेकिन दिल्ली के आजाद नगर के जमाती आने के बाद सभी ने मांग करना शुरू कर दी। फलों में केले और सेब सहित अन्य की मांग भी की जा रही है। चिरायु अस्पताल में चार विदेशी और चार दिल्ली के रहने वाले जमातियों का इलाज चल रहा है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना