भोपाल । कोरोना की जंग में जूझ रहे कई चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों के कोरोना संक्रमित होने से नई चुनौती खड़ी हो गई है। ऊपर से उनकी सुरक्षा को लेकर उत्पन्न खतरों ने सरकार की पेशानी पर बल ला दिए हैं। चिकित्सकों पर हमला करने वालों पर सरकार ने शिकंजा कसकर यह संदेश दिया है कि ऐसी कोई भी हरकत बर्दाश्त नहीं होगी। दूसरे स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ाने की दिशा में भी मुख्यमंत्री जल्द ही बड़ा कदम उठाने वाले हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की जंग लड़ रहे सभी सरकारीकर्मियों के हित में बड़ा फैसला लेने की तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने शासन के शीर्ष अधिकारियों से विमर्श कर इसका रोडमैप तैयार कर लिया है। संकट की इस घड़ी में प्राइवेट नर्सिंग होम और निजी चिकित्सकों ने अपने को समेट लिया है, जबकि सरकारी अमला बढ़-चढ़कर सेवा कर रहा है। इससे सरकारी विभागों की साख बढ़ी है।

अभी हाल में इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की घटना का भी सरकार ने संज्ञान लिया और कड़ी कार्रवाई की है। राज्यपाल लालजी टंडन ने संबंधित चिकित्सकों से वार्ता कर उनका हौसला बढ़ाया है। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री की अर्जी पर भी मुख्यमंत्री गंभीर शासन से संकेत मिले हैं कि पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने मुख्यमंत्री को गत दिवस स्वास्थ्य कर्मियों के हित के लिए जो पत्र दिया, उस पर मुख्यमंत्री गंभीर हैं।

सिलावट ने चिकित्सालय और मेडिकल कालेजों में सुरक्षा व्यवस्था के साथ अतिरिक्त एंबुलेंस की मांग की थी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस बाबत निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि कमल नाथ की सरकार गिराने और शिवराज सिंह चौहान की सरकार बनवाने में सिलावट की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

चिकित्सकों का बीमा और दो लाख राहत राशि दे सकती सरकार पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने प्रदेश के चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों का बीमा भारत सरकार की तर्ज पर कराने का मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है।

यदि कोरोना से मरीजों के इलाज के दौरान चिकित्सक या सहयोगी स्वास्थ्यकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाते हैं तो उन्हें अलग से दो लाख रुपये राहत राशि के रूप में देने की भी मांग की थी। सूत्रों का कहना है कि सरकार इस दिशा में कदम उठाने जा रही है। सरकार कोरोना की जंग में शामिल स्वास्थ्यकर्मियों को प्रोत्साहित करने की दिशा में अन्य विकल्पों पर भी विचार कर रही है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस