Coronavirus Madhya Pradesh News : भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। कोरोना को नियंत्रित करने के उपायों का अब असर दिखाई देने लगा है। प्रदेश में 51.3 फीसद कोरोना संक्रमित स्वस्थ हो रहे हैं। यह दर भोपाल में सर्वाधिक 63 प्रतिशत है। यहां के एक हजार 241 प्रकरणों में 788 स्वस्थ हुए हैं। संक्रमितों में अधिकांश की आयु 20 से 60 वर्ष रही है। प्रदेश में अब दोगुने प्रकरण होने का क्रम 20वें दिन ही आ रहा है, जो अन्य राज्यों से बेहतर है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को समीक्षा के दौरान कलेक्टरों को बस्तियों में रैंडम जांच कराने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि हमें कोरोना नियंत्रण में सफलता मिल रही है लेकिन लगातार डटे रहने की जरूरत है। कलेक्टर बस्तियों पर नजर रखते हुए रैंडम जांच कराएं और फीवर क्लीनिक प्रभावी ढंग से काम करें, इसकी कोशिश करें।

इस दौरान बताया गया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वालों की संख्या 51.3 प्रतिशत है और लगातार बढ़ रही है, जो शुभ संकेत हैं। भोपाल में स्वस्थ होने की दर 63 फीसद है। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में इंदौर, भोपाल और उज्जैन के अलावा कुल एक हजार 415 रोगी भर्ती किए गए हैं।

जिलों में करीब 21 हजार से अधिक रोगियों को आइसोलेट करने की व्यवस्था है। हालांकि, इसका 13 प्रतिशत ही उपयोग में लेने की जरूरत पड़ी है। भोपाल की स्थिति को लेकर बताया गया कि एम्स, जीएमसी, चिरायु मेडिकल कॉलेज और कोविड केयर सेंटर में 492 रोगी भर्ती हैं। तीन मरीज वेंटिलेटर पर हैं। भोपाल जिले में 464 लोगों को आइसोलेट किया गया।

कलेक्टर तरुण कुमार पिथोड़े ने कहा कि जहांगीराबाद क्षेत्र में रमजान के बाद भी स्थानीय नागरिकों का पूरा सहयोग मिला। अशोका गार्डन, बाग उमराव दुल्हा जैसे क्षेत्रों में सघन बसाहट के कारण प्रकरण जरूर सामने आए थे, लेकिन अब स्थिति नियंत्रित हो रही है। 59 फीवर क्लीनिक संचालित हैं। 32 थाना क्षेत्रों में 173 कंटेनमेंट क्षेत्र बनाए गए हैं।

छह हजार 665 प्रकरणों में तीन हजार 408 स्वस्थ

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि मध्यप्रदेश में 24 मई तक छह हजार 665 कोरोना के प्रकरण आए हैं। इनमें दो हजार 967 एक्टिव प्रकरण हैं। तीन हजार 408 स्वस्थ हो चुके हैं। अब दोगुने प्रकरण होने का क्रम 20वें दिन ही आ रहा है, जो अन्य राज्यों से बेहतर है।

ऐसे 25 जिले, जहां दस से ज्यादा प्रकरण पाए गए हैं, उनमें 41 हजार 640 लोग घरों में और दो हजार 109 संस्थागत रूप से क्वारंटाइन किए गए हैं। हरदा, छिंदवाड़ा और अलीराजपुर में पिछले 21 दिन में कोई भी पॉजिटिव प्रकरण सामने नहीं आया है। नरसिंहपुर में पहला पॉजिटिव प्रकरण सामने आया है। जिन जिलों में एक्टिव मामले देखे जा रहे हैं वहां सर्वे दल सक्रिय हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना