Coronavirus MP News: भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। कोरोना संकट के बीच जनता पर महंगाई की मार भी पड़ रही है। थोक में तुअर दाल इस समय सौ रुपये किलोग्राम तक पहुंच गई है तो फुटकर में यह 140 रुपये किलोग्राम तक मिल रही है। इसी तरह मूंग थोक में 95 रुपये किलोग्राम है तो चना दाल के भाव 70 रुपये किलोग्राम है। फुटकर में मूंग दाल 120 और चना दाल 90 रुपये किलोग्राम के आसपास है। दालों की बढ़ती कीमतों को देखते हुए खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग मांग और आपूर्ति पर नजर रख रहा है। आकलन करने के बाद केंद्र सरकार के फीडबैक के आधार पर कदम उठाए जाएंगे। वहीं, कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि अभी तक मुनाफा सिर्फ बिचौलिए कमाते थे। पहली बार गेहूं के साथ चना, मसूर और उड़द की खरीद करके किसानों को समर्थन मूल्य दिलाया गया है।

दलहन उत्पादन के मामले में मध्य प्रदेश का देश में महत्वपूर्ण स्थान है। यहां से दाल पूूरे देश में जाती है। तुअर (अरहर) और चना दाल की खपत भी अच्छी खासी है। कृषि विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वर्ष 2019-20 में प्रदेश में तुअर का क्षेत्रफल ढाई लाख हेक्टेयर और उत्पादन तीन लाख टन के आसपास था। चना को सवा 19 लाख हेक्टेयर में बोया गया और उत्पादन 31 लाख टन हुआ। वहीं, उड़द को 17.62 लाख हेक्टेयर में बोया गया और 4.6 लाख टन उत्पादन हुआ। दलहन विकास कार्यक्रम के तहत किसानों को दलहन फसलों के लिए प्रोत्साहित भी किया गया पर उपज की कीमत सही नहीं मिल रही थी।

कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि किसानों को समर्थन मूल्य दिलाने के लिए पहली बार खरीद की व्यवस्था में परिवर्तन किया गया। गेहूं के साथ खरीद प्रारंभ की। इसका फायदा यह हुआ कि जो चना बाजार में 4300 से 4500 रुपये प्रति क्विंटल चल रहा था वो 5100 के ऊपर पहुंच गया। इस बार चना का समर्थन मूल्य 5100 रुपये है। इसी तरह अन्य उपज के भाव भी किसानों को बेहतर मिले। उधर, बाजार में दालों की कीमत बढ़ गई। तुअर, चना, मूंग, उड़द आदि दालें थोक और फुटकर में महंगी हो गईं।

थोक दाल कारोबारी भगवान दास अग्रवाल का कहना है कि पिछले साल लाकडाउन के समय जो कीमत बढ़ी थी, वो इस बार नहीं है। अभी नई दाल की मांग रहती है लेकिन इस बार कमी है। पिपरिया में बैतूल की दाल आ रही है। महाराष्ट्र और कर्नाटक की मंडियों से भी दाल आ रही है। चना दाल थोक में 70 रुपये किलोग्राम के आसपास है। तुअर दाल 97 से 100, मूंग 95 और उड़द 100 रुपये किलोग्राम के आसपास है। फुटकर में व्यापारी अपना मुनाफा जोड़कर बेचते हैं।

उधर, दालों के दामों को नियंत्रित करने के लिए कंट्रोल ऑर्डर लागू करने के संबंध में संचालक खाद्य नागरिक आपूर्ति तरुण कुमार पिथौड़े का कहना है कि अभी हम आकलन कर रहे हैं। इस संबंध में केंद्र सरकार से फीडबैक आता है। दालों की कीमत के साथ मांग और आपूर्ति पर नजर रखी जा रही है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags