भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। शहर में स्‍थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में (एमसीयू) विश्व एड्स दिवस पर एनएसएस इकाई के तत्वावधान में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। एमसीयू की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की ओर से विश्व एड्स दिवस पर आयोजित ‘एड्स : रोकथाम एवं जागरूकता कार्यक्रम’ में किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य डा. कृपाशंकर चौबे ने मुख्य वक्ता के रूप में विद्यार्थियों को संबोधित किया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने की।

कार्यक्रम के दौरान मुख्य वक्ता डा. कृपाशंकर चौबे ने कहा कि एड्स बहुत घातक बीमारी है। ये रोग मनुष्य की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देता है। इसके कारण वह छोटी बीमारियों से भी नहीं लड़ पाता है। एड्स से जुड़े आंकड़े चिंताजनक अवश्‍य हैं, लेकिन लोगों में इसके प्रति जागरूकता पैदा करके इस बीमारी के फैलाव को रोका एवं कम किया जा सकता है। वहीं संस्‍थान के कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने अपने उद्बोधन में कहा कि एड्स के संबंध मे बहुत भ्रांतियां समाज में फैली हुई हैं। हमें इन भ्रांतियों को दूर कर जागरूकता लाने के प्रयास करने चाहिए। इस कार्य में राष्ट्रीय सेवा योजना की बहुत बड़ी भूमिका है। उन्होंने यह भी कहा कि एनएसएस को सक्रिय होकर संस्थाओं के साथ मिलकर समाज मे जागरुकता लाने का कार्य करना चाहिए। उन्होंने पत्रकारिता के विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वास्थ्य से जुड़ी रिपोर्टिंग करते वक्त तथ्‍यों की जांच जरूर करें। साथ ही आप बुद्धिजीवी बनें, खुद जागरूक हों और समाज को भी जागरूक करें। कार्यक्रम का संचालन एनएसएस के विद्यार्थियों ने किया। कार्यक्रम के अंत में एनएसएस अधिकारी डा गजेंद्र सिंह अवास्‍या ने सबका आभार माना।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local