-प्रदेश के कई स्थानों पर बौछारें पड़ने से भीषण गर्मी से मिली राहत

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

चक्रवाती तूफान 'वायु' के असर से प्रदेश में कई स्थानों पर बौछारें पड़ने का सिलसिला जारी है। इससे लोगों को भीषण गर्मी से कुछ राहत मिल गई है। इसी क्रम में प्रदेश में सबसे अधिक 43 डिग्रीसे. तापमान खजुराहो, नौगांव, ग्वालियर और खरगोन में दर्ज हुआ। उधर, राजधानी भोपाल में शुक्रवार को दोपहर में इस सीजन की पहली प्री मानसून की तूफानी बरसात हुई। तेज हवा के साथ एक घंटे में 30.4 मिमी. पानी गिरा। इससे मौसम खुशगवार हो गया। मौसम विशेषज्ञों ने 3-4 दिन तक प्रदेश के अनेक स्थानों पर गरज-चमक के साथ रुक-रुक कर बौछारें पड़ते रहने की संभावना जताई है।

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक शुक्रवार को सुबह 8ः30 बजे से शाम 5ः30 बजे के बीच भोपाल में 30.4, रायसेन में 24.0, जबलपुर में 7.0, सतना में 5.0, उज्जैन में 2.0, सीधी में 1.0 पानी गिरा। शाजापुर में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हुई। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने बताया कि अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान वायु अभी भी शक्तिशाली बना हुआ है। इस वजह से तेज हवाओं के साथ प्रदेश में बड़े पैमाने पर नमी आने का सिलसिला जारी है। साथ ही अभी तक प्रदेश में सभी स्थानों पर तापमान बढ़े हुए थे। इसके चलते नमी मिलते ही प्री मानसून एक्टिविटी में तेजी आ गई है। उन्होंने बताया कि इस तरह की स्थिति अभी 3-4 दिन तक बनी रह सकती है। अब दिन के तापमान में अधिक बढ़ोतरी होने की संभावना कम है।

शुक्रवार को चार महानगरों का तापमान

शहर अधिकतम न्यूनतम

भोपाल 39.1 28.0

इंदौर 37.8 26.2

जबलपुर 39.8 25.4

ग्वालियर 43.2 29.0

----------------------

नोटः-तापमान डिग्रीसे. में।

------------------------