नोटः खबर का फोटो ऑनलाइन कराया जा रहा है।

- 1 जून से स्टेशन से होकर गुजरेंगी अप-डाउन की 48 ट्रेनें

- हजारों यात्रियों के स्टेशन से होकर आने-जाने की संभावना

- डीआरएम व सीनियर डीसीएम ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

भोपाल स्टेशन पर यात्रियों को कोरोना से बचाने के लिए पूरा इंतजाम किया जा रहा है। शुक्रवार शाम को 10-10 हजार रुपये की दो मशीनें भिजवा दी हैं। ये स्टेशन परिसर के अंदर प्लेटफार्म, वेटिंग रूम, टिकट काउंटर, फुट ओवर ब्रिज व चेयर को चौबीस घंटे में तीन से लेकर छह बार सैनिटाइज करेंगी। इसके अलावा यात्रियों के दबाव के अनुरूप धुलाई व पोछा लगेगा। डस्टबिन में कचरा जमा नहीं होने दिया जाएगा। नलों की टोटियां साफ की जाएंगी। यात्रियों को प्लेटफार्म-1 की तरफ से भी बाहर निकलने की इजाजत होगी। ये सभी व्यवस्थाएं 1 जून से भोपाल होकर गुजरने वाली अप-डाउन की 28 ट्रेनों से चढ़ने व उतरने वाले यात्रियों की सुरक्षा को लेकर की गई है। शुक्रवार को डीआरएम उदय बोरवणकर ने तैयारियों का जायजा लिया है। उनके साथ सीनियर डीसीएम नवदीप कुमार अग्रवाल व अन्य अधिकारी भी थे।

----------

1 जून से स्टेशन पर इस तरह रहेंगी व्यवस्थाएं

स्टेशन पर प्रवेश

- प्लेटफार्म-1 व 6 की तरफ से प्रवेश मिलेगा। दोनों तरफ प्रवेश के लिए अलग-अलग तीन-तीन लाइनें लगाईं जाएंगी। जांच के बाद अंदर प्रवेश दिया जाएगा। जहां से प्रवेश दिया जाएगा, वहां से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। यात्री कम रहे तो एक या दो लाइनें ही लगाईं जाएंगी।

बाहर निकलना

- अभी तक प्लेटफार्म-6 की तरह से बाहर निकलने की अनुमति थी लेकिन यात्रियों का दबाव बढ़ने की संभावना है। इसे देखते हुए रेलवे ने स्थानीय प्रशासन से प्लेटफार्म-1 की तरफ से एक्जिट की अनुमति मांगी है। प्रशासन लगभग तैयार है। वीआईपी गेट से यात्री बाहर निकलेंगे।

पार्किंग व्यवस्था

- प्लेटफार्म-1 की तरफ पार्किंग चालू हो गई है। प्लेटफार्म-6 की तरफ भी चालू कराई जा रही है।

ऑटो स्टैंड

- प्लेटफार्म-1 व 6 की तरफ कतार में ऑटो खड़े रहेंगे, बीच से कोई इधर-उधर नहीं जा सकेंगे। एक के बाद एक आगे चलेंगे। इन्हीं के समांतर निजी वाहनों की कतारें होंगी, सुर्कुलेटिंग एरिया में पार्किंग पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

टिकट काउंटर

- प्लेटफार्म-1 की तरफ दो रिजर्वेशन काउंटर चालू हैं, दबाव बढ़ा तो और चालू कराएं जाएंगे।

सैनिटाइजर की व्यवस्था

- रिजर्वेशन कक्ष में प्रवेश से पहले सैनिटाइजर से हाथ साफ करने होंगे। इसके लिए पैर से चलने वाली माश्ीनें लगवा दी हैं। उसमें पानी व सैनिटाइजर उपलब्ध रहेगा।

फुट ओवर ब्रिज

- पुराने फुट ओवर ब्रिज पर टाइल्स लगाने व वेल्डिंग का काम चल रहा था, जो अंतिम चरणों मे हैं। शनिवार शाम तक खत्म हो जाएगा। ब्रिज के ऊपर से भी यात्री एक के पीछे एक चलेंगे। आने और जाने की कतारें अलग-अलग होंगी।

वेटिंग रूम

- स्टेशन पर प्रत्येक श्रेणी के एक-एक वेटिंग रूम खुलवाएं जाएंगे। इन्हें नियमित सैनिटाइज किया जाएगा। इनके अंदर सैनिटाइजर की व्यवस्था होगी।

फूड स्टॉल

- रेलवे ने फूड स्टॉल संचालकों को जरुरत के हिसाब से स्टॉल खोलने के लिए कहा है। हालांकि स्टॉल संचालकों के एसोसिएशन ने राष्ट्रव्यापी आव्हान के तहत कहा है कि वे अभी स्टॉल नहीं खोलेंगे, क्योंकि उन्हें यात्री नहीं मिल रहे हैं, नुकसान होगा।

ट्रेन के अंदर जाकर खाना नहीं बेचेंगे

- कोई भी स्टॉल संचालक व वेंडर ट्रेन के अंदर जाकर खाना नहीं बेच सकेंगे। इच्छुक यात्री उतरकर आएंगे और जरूरत की सामग्री लेकर ट्रेन में चढ़ जाएंगे।

-------------

00 हबीबगंज से दो ट्रेनें चलेंगी, आठ रुकेंगी, एक सब-वे से ही आना-जाना होगा

हबीबगंज रेलवे स्टेशन से भोपाल एक्सप्रेस व जनशताब्दी एक्सप्रेस चलेंगी। इसके अलावा पुष्पक, कुशीनगर, सिकंदराबाद-निजामुद्दीन दूरंतो एक्सप्रेस समेत अप-डाउन की आठ ट्रेनें हाल्ट लेकर चलेंगी। यात्रियों को स्टेशन के भोपाल छोर वाले अंउर ग्राउंड सब-वे से ही प्रवेश मिलेगा। इसी सब-वे से बाहर निकलना होगा। इटारसी छोर वाला सब-वे बंद रहेगा। यात्रियों का दबाव बढ़ने पर उसे चालू किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना