भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

रोजाना 50 हजार यात्रियों के आवागमन वाले भोपाल स्टेशन पर पटरियों से सटी नालियों पर रखी जालियां जानलेवा बन रही हैं। बहुत पुरानी और अधिक गैप वाली इन जालियों में आए दिन यात्री व रेलकर्मियों के पैर फंस रहे हैं। बुधवार को एक प्लेटफार्म से दूसरे पर जाते समय जाली में फंसकर एक यात्री की मौत हो चुकी है। इसके पहले एक महिला का पैर फंसकर टूट गया था। इसके बावजूद रेलवे के अफसर इन जालियों को सुधार नहीं रहे हैं।

स्टेशन परिसर में गंदे पानी की निकासी के लिए नालियां बनी हैं। ये एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म के बीच पटरियों से सटी हैं। इन्हें लोहे की जालियों से कवर्ड किया है, ताकि ट्रैक का मेंटेनेंस करने वाले रेलकर्मी और अनजाने में सीधे पटरी पार करने वाले यात्रियों को नुकसान न हो। इन्हीं जालियों में यात्रियों में यात्री फंस रहे हैं।

-----

जाली में फंसने की दो बड़ी घटनाएं

जाली में फंसा यात्री पटरी पर गिरा, ट्रेन आई और धड़ से अलग हुआ सिर

27 जून, रात नौ बजेः एक यात्री ट्रेन पकड़ने के लिए अनजाने में पटरी पार कर प्लेटफार्म-1 से दो की तरफ जा रहा था। तभी वह एक नाली जाली में फंस गया। पैर फंसते ही वह पटरी पर गिर गया। उसका सिर एक पटरी पर था। इसी बीच प्लेटफार्म-2 पर गोंडवाना एक्सप्रेस आ गई। इसके कारण सिर धड़ से अलग हो गया। यात्री की पहचान नहीं हुई। मृतक की उम्र 55 साल बतायी जा रही है।

जाली काटकर निकालना पड़ा महिला का पैर

6 अक्टूबर 2017 : प्लेटफार्म-6 की तरफ एक महिला यात्री पटरी पार कर रही थी। तभी उसका पैर जाली में फंस गया। काफी मशक्कत के बाद उसका पैर नहीं निकला। तब भोपाल आरपीएफ ने कटर से जाली काटकर उसका पैर निकाला था। तब महिला को बचा लिया गया था।

जालियों में फंसने की ये वजह

- जाली को बनाने में धांधली हुई है। रुपए बचाने के चक्कर में दूर-दूर लोहे की राड लगा दी है। ऐसा करके लोहा बचाया गया है। एक से दूसरी राड के बीच ज्यादा गैप के कारण यात्री फंस रहे हैं।

- जाली सालों पुरानी है, जंग लगने के कारण कई जगह से टूट गई है। इसके कारण उन पर पैर रखते ही सीधा नालियों में चला जाता है।

जालियां बदलवाएंगे

खराब जालियों को बदलवाया जाएगा। उनकी जगह नई और व्यवस्थित जाली लगवाएंगे। यात्रियों को भी पटरी पार नहीं करने की समझाइश देंगे।

- आरएस राजपूत, प्रभारी डीआरएम भोपाल रेल मंडल

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local