Dearness Allowance: भोपाल। (राज्य ब्यूरो)। शिवराज सरकार अधिकारियों-कर्मचारियों को दीवाली का तोहफा देगी। इसके लिए महंगाई भत्ते में वृद्धि की जाएगी। वित्त विभाग इसका प्रस्ताव मुख्यमंत्री सचिवालय को भेज चुका है। अब इस पर अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लेंगे। राज्य सरकार के प्रवक्ता गृहमंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को इसके संकेत देते हुए कहा कि कर्मचारी हितैषी सरकार है। कर्मचारी थोड़ी प्रतीक्षा करें। जल्द ही खुशखबरी मिलेगी। महंगाई भत्ते में वृद्धि का लाभ दस लाख से ज्यादा अधिकारियों-कर्मचारियों को मिलेगा।

प्रदेश में कर्मचारियों को अभी 12 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा है। केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 28 प्रतिशत कर दिया है। कई राज्यों ने बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लागू कर दिया है। प्रदेश में भी इसकी तैयारी काफी समय से चल रही है पर कोरोना संकट की वजह से प्रभावित अर्थव्यवस्था को देखते हुए अब तक निर्णय नहीं लिया गया है। जबकि, कर्मचारी संगठन काफी समय से महंगाई भत्ते में वृद्धि करने की मांग को लेकर आंदोलन भी कर चुके हैं।

वित्त विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के बाद आर्थिक गतिविधियां बढ़ी हैं। इसके कारण सरकार के राजस्व में भी वृद्धि हो रही है। एक अप्रैल से लेकर 31 अगस्त 2021 तक वाणिज्यिक कर, पंजीयन और आबकारी से 24 हजार 971 करोड़ रुपये से अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। पिछले साल इसी अवधि में यह राजस्व 17 हजार 139 करोड़ रुपये मिला था। राजस्व संग्रहण में और वृद्धि होने की संभावना है।

छत्तीसगढ़ में पांच फीसद बढ़ाया है महंगाई भत्ता

छत्तीसगढ़ सरकार पिछले सप्ताह महंगाई भत्ते में वृद्धि कर चुकी है। सातवें वेतनमान प्राप्त अधिकारियों-कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में पांच फीसद की वृद्धि की गई है। जबकि, जिन कर्मचारियों को छठवां वेतनमान प्राप्त हो रहा है, उनका महंगाई भत्ता दस प्रतिशत बढ़ाया गया है। यह वृद्धि एक जुलाई 2021 से दी गई है।

मार्च 2020 से नहीं बढ़ा महंगाई भत्ता

प्रदेश के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता मार्च 2020 में पांच फीसद बढ़ाए जाने के आदेश वित्त विभाग ने किए थे लेकिन इसे स्थगित कर दिया था। कोरोना संकट से प्रभावित अर्थव्यवस्था को देखते हुए यह निर्णय लिया गया था।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local