भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा है कि नए प्रदेश अध्यक्ष और निगम-मंडलों में ताजपोशी की घोषणा जल्द ही कर दी जाएगी। निगम-मंडलों में नियुक्ति के मापदंड तय हो चुके हैं। सिफारिशी नेता को मौका नहीं मिलेगा। दिसंबर तक सभी नियुक्तियों के प्रयास हैं, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार मप्र के साथ भेदभाव कर रही है, 18 हजार करोड़ के स्थान पर मात्र 6 हजार करोड़ की राशि दी गई।

कांग्रेस प्रभारी बाबरिया ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि निगम-मंडलों में ऐसे लोगों को मौका मिलेगा जिनकी छबि ठीक हो, पिछले 15, 10 एवं 5 साल की सक्रियता भी देखी जाएगी। एक सवाल पर उन्होंने बताया कि ऐसे उम्रदराज नेताओं को भी मौका मिलेगा जो पिछले डेढ़ दशक लगातार सक्रिय रहे।

उन्होंने कहा कि केंद्र के अन्याय के खिलाफ 14 दिसंबर को कांग्रेस दिल्ली में प्रदर्शन करेगी। मोदी सरकार ने नोटबंदी के बाद देश को मंदी के माहौल में धकेल दिया है। बेरोजगारी बढ़ गई है और जीडीपी और उत्पादन ग्रोथ तेजी से नीचे गिर रही है। मप्र में अतिवृष्टि से किसानों और सड़कों को भारी नुकसान हुआ लेकिन केंद्र ने एक पैसे की राहत नहीं दी।

उन्होंने यह भी बताया कि मेनिफेस्टो इम्पलीमेंटेशन कमेटी में मंत्री-विधायकों के साथ हर वर्ग के प्रतिनिधि रखेंगे। भाजपा पर तंज कसते हुए बाबरिया ने कहा कि भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान, गोपाल भार्गव और राकेश सिंह शेखचिल्ली की तरह बातें कर रहे हैं।

बाबरिया ने बताया कि स्थानीय निकाय चुनाव की तैयारियां हम जोर-शोर से कर रहे हैं। चुनाव के पहले हर जिले में पार्टी पुनर्गठन की प्रक्रिया शुरू की जा रही है, सक्रिय नेताओं को पदोन्नात करेंगे।

Posted By: Hemant Upadhyay