भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। भोपाल मैरिज गार्डन ओनर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने राजधानी के मैरिज गार्डनों में 50 फीसद लोगों की उपस्थिति के साथ विवाह समारोह आयोजित करने की अनुमति देने की मांग जिला प्रशासन से की है। एसोसिएशन के अध्यक्ष हरीश पस्तारिया, उपाध्यक्ष श्याम सुंदर गोपलानी एवं सह सचिव दीपक खूबचंदानी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि मैरिज गार्डन में पर्याप्त जगह होने के कारण शारीरिक दूरी का पालन आसानी से किया जा सकता है। शासन ने केवल 50 व्यक्तियों की उपस्थित में वैवाहिक आयोजन करने की अनुमति दी है। यह संख्या बहुत ही कम है। ज़िला प्रशासन को मैरिज गार्डन में क्षमता के अनुसार 50 फ़ीसद लोगों की उपस्थिति में विवाह समारोह आयो‍जित करने करने की अनुमति देनी चाहिए। गोपलानी ने कहा कि नगर निगम ने हमें जो लाइसेंस दिए हैं, उसमें क्षमता का उल्लेख है। शासन क्षमता के अनुसार आसानी से अनुमति दे सकता है।

पस्तारिया व गोपलानी ने कहा कि 21 अप्रैल से विवाह मुहूर्त शुरू हो रहे हैं। यदि अधिक लोगों की मौजूदगी में विवाह समारोह की अनुमति ना मिली तो तकरीबन 33 हज़ार लोगों की रोजी-रोटी पर संकट खड़ा हो जाएगा। उपाध्यक्ष सीएम शर्मा एवं सचिव दीपक खूबचंदानी का कहना है कि पाबंदी के कारण पूरे उद्योग को परेशानी का सामना करना पड़ता है। सीधे-सीधे उद्योगों पर प्रहार है। सरकार को गंभीरता से सोचना चाहिए।

गरीबों की रोजी-रोटी पर भी संकट खड़ा हो गया है

मैरिज गार्डन ओनर्स वेलफेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों के अनुसार पाबंदियों के कारण मैरिज गार्डन की बुकिंग नहीं हो पा रही है। लोग बुकिंग को निरस्त कर रहे हैं। कुछ परिवार तो पिछले लॉकडाउन के समय से परेशान हैं। गरीबों की रोजी-रोटी भी प्रभावित हो रही है, क्योंकि आयोजन नहीं होने से बैंड-बाजे, डीजे, आर्केस्ट्रा आदि से जुड़े परिवारों पर संकट खड़ा हो गया है। सरकार को गंभीरता से विचार करना चाहिए, ताकि सबका भला हो सके। इस संबंध में गुरुवार को वृंदावन गार्डन में एसोसिएशन की बैठक हुई, जिसमें जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों से मुलाकात कर अपनी बात रखने का निर्णय लिया गया।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags