Dengue in Bhopal: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश में डेंगू के सक्रिय मरीजों की संख्या कम होने के साथ ही राहत भरी खबर यह है कि इस बीमारी को फैलाने वाले एडीज मच्‍छर का लार्वा भी अब कम मिल रहा है। पहले जहां हर दिन 10 से 12 फीसद घरों में लार्वा मिल रहा था, वहीं हफ्ते भर से यह आंकड़ा सात से आठ फीसद के बीच है। शनिवार को 1577 घरों में लार्वा का सर्वे किया गया। इनमें 108 घरों में डेंगू का लार्वा मिला है। 10 फीसद से ज्यादा घरों में लार्वा मिलने का मतलब यह है कि बीमारी का संक्रमण ज्यादा है।

22 सैंपल की जांच में डेंगू के सात और चिकनगुनिया का एक मरीज मिला

शहर में शनिवार को डेंगू के 22 सैंपल की जांच में सात मरीज मिले हैं, जबकि चिकनगुनिया का भी एक मरीज मिला है। इसके साथ ही शहर में डेंगू मरीजों की संख्या 535 हो गई है। जिले में अगस्त के पहले तक 108 मरीज मिले थे। बाकी मरीज सितंबर और अक्टूबर में मिले हैं। इस साल चिकनगुनिया के मरीजों का आंकड़ा भी 100 के पार हो गया है। पूरे शहर में डेंगू के मरीज मिल रहे हैं। हालांकि, राहत की बात है कि जीका बुखार और जैपनीज इंसेफेलाइटिस के मामले इस साल नहीं आ रहे हैं। डेंगू से प्रभावित मरीजों में ज्यादातर बच्चे हैं। पिछले साल शहर में डेंगू के सिर्फ 74 मरीज मिले थे। इसकी वजह यह थी कि कोरोना संक्रमण होने की वजह से लोगों एक जगह से दूसरी जगह आना-जाना कम था। इस कारण डेंगू का संक्रमण सीमित रहा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local