भोपाल(नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय पुलिस सेवा के वर्ष-1984 बैच के आईपीएस अधिकारी विवेक जौहरी ने गुरुवार को डीजीपी का कार्यभार संभाल लिया। पुलिस महानिदेशक का कार्यभार संभालने के लिए पुलिस मुख्यालय पहुंचे जौहरी को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। प्रभारी डीजीपी और स्पेशल डीजी सायबर सेल राजेंद्र कुमार ने उन्हें कार्यभार सौंपा। जौहरी इससे पहले सीमा सुरक्षा बल के डीजी के रूप में पदस्थ थे। वे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय के शासन में उनके ओएसडी भी रह चुके हैं।

इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट जौहरी को वर्ष 2000 में राष्ट्रपति के सराहनीय सेवा पदक और वर्ष 2008 में विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया था। पन्ना, भिंड, रतलाम व जबलपुर जिले में जौहरी पुलिस अधीक्षक रह चुके हैं। उन्होंने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक गुप्तवार्ता व पीटीआरआई के दायित्व का निर्वहन भी किया है। इसके अलावा पुलिस उप महानिरीक्षक विशेष शाखा पुलिस मुख्यालय में भी पदस्थ रहे हैं। वे केंद्र में पुलिस अधीक्षक सीबीआई व अतिरिक्त कैबिनेट सचिव के पद पर कार्य कर चुके हैं।

6 मार्च को संभाला था कुमार ने पदभार

राजनीतिक उठापटक के बीच राज्य शासन ने 5 मार्च को डीजीपी के पद से वीके सिंह को हटाकर उन्हें डायरेक्टर स्पोर्ट्स के पद पर पदस्थ किया था। उनके स्थान पर डीजीपी के पद पर जौहरी को पदस्थ किया था। जौहरी के पद संभालने तक स्पेशल डीजी को राजेंद्र कुमार को प्रभारी डीजीपी बनाया था।

कुमार ने आदेश निकलने के अगले ही दिन डीजीपी का पदभार संभाल लिया था। ऐसा माना जा रहा था कि जौहरी केंद्र की प्रतिनियुक्ति से वापस नहीं लौटेंगे। लिहाजा कुमार ही यह पद प्रभारी के तौर पर संभालते रहेंगे। बदलते राजनीतिक समीकरणों के बीच जौहरी को केंद्र सरकार ने होली के अवकाश के बावजूद मंगलवार को रिलीव कर दिया था।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags