भोपाल/अशोकनगर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। अशोकनगर जिले के चंदेरी क़स्बे में शुक्रवार को कोविड-19 टीकाकरण की समीक्षा बैठक जनपद पंचायत परिसर चंदेरी में आयोजित की गई। इसमें प्रभारी जनपद सीइओ प्रमोद कुमार सिंह एक पंचायत सचिव के काम में लापरवाह रवैये को लेकर नाराज़ हुए, तो सचिव ऑफ़िस की छत से कूदने लगा। सीइओ ने काम में लापरवाही होने पर सचिव को निलंबित करने की बात कही थी। हालाँकि मौक़े पर मौजूद अन्य लोगों ने सचिव को पकड़ा और समझा-बुझाकर उसे कूदने से रोका।

इस मामले में ग्राम पंचायत गरेंठी के सचिव शिवकांत चतुर्वेदी ने सीइओ पर अपशब्द कहने का आरोप लगाया और कहा कि उसे बेवजह प्रताड़ित किया जा रहा है। सचिव ने कहा कि प्रभारी सीईओ द्वारा एक दिन पहले जॉइन होते ही दूसरे दिन से मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। सचिव का कहना है कि मैं हाई ब्लड प्रेशर और माइग्रेन की बीमारी से पीड़ित हूं। इस दौरान सचिव ने हंगामा किया और कहने लगा कि में आत्महत्या कर लूंगा।

वहीं, इस संबंध में जनपद सीइओ ने कहा कि मीटिंग में मैंने किसी को अपशब्द नहीं कहे, पंचायत सचिव को 23 नवंबर को कारण बताओ नोटिस जारी किया था, जिसका उन्होंने अभी तक जवाब नहीं दिया है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local