भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

जहांगीराबाद इलाके में पुलिस मुख्यालय के पास खटलापुरा घाट पर शुक्रवार तड़के साढ़े चार बजे भगवान गणेश की एक मूूर्ति को विसर्जन के लिए लाया गया था। इसे दो नाव पर क्रेन की मदद से रखवाया गया। घाट से करीब 40 फीट दूर जाने पर मूर्ति को विसर्जित किया तभी एक नाव में वजन ज्यादा होने से वह असंतुलित होकर पलट गई। उस नाव में सवार लोग दूसरी नाव में चढ़ने की कोशिश करने लगे, लेकिन वह नाव भी डूब गई। इससे दोनों नावों में सवार 11 युवकों की पानी में डूबने से मौत हो गई, जबकि छह लोगों को बचा लिया गया। वहीं दो नाविक मौके से फरार हो गए। इनके खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है।

हादसे की जानकारी लगने के बाद पुलिस, नगर निगम और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। आनन- फानन में नगर निगम के गोताखोरों व एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। रेस्क्यू ऑपरेशन चला कर 100 क्वार्टर पिपलानी निवासी रोहित मौर्य (20), प्रवीण उर्फ सन्नी ठाकरे (22), हरि राणा (20), विशाल उर्फ जोगा सोनवाने (22), करन लुड़ेरे (19), राहुल वर्मा(18), परवेज खान(12), विक्की उर्फ आवेश समसेरिया (19), अर्जुन शर्मा (16) निवासी एमआईजी 35 बीडीए फ्लैट सोनागिरी, एसओएस बालग्राम निवासी 18 वर्षीय राहुल मिश्रा और 60 क्वार्टर निवासी अरूण मालवीय (18) के शव बरामद किए गए। हमीदिया अस्पताल में एक घंटे में 11 पीएम करने के बाद 10 शवों को उनके परिजनों को सुपुर्द किया गया। ग्यारहवां शव अभी भी मर्चुरी में रखवाया गया है। मृतक की बहन के मुंबई से आने के बाद शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

मजिस्ट्रेट जांच के आदेश, 11-11 लाख की आर्थिक मदद

घटना की जानकारी लगते ही मुख्यमंत्री कमलानाथ ने इस पूरी घटना के मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही मृतक के परिवारों को 11-11 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket