Driving licence in Bhopal : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शहरवासियों को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। अनलॉक-1 में एक सप्ताह से बनने शुरू हुए ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वालों की संख्या बढ़ते जा रही है। रोज 300 से 400 लोग लर्निंग व परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर रहे हैं, लेकिन कोरोना काल में केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन करते हुए एक दिन में 50 लर्निंग व 50 परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के ऑनलाइन आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं। बाकी आवेदन पेंडिंग होते जा रहे हैं। स्थिति यह है कि 29 जून से 8 जुलाई तक लाइसेंस के लिए आवेदन पूरे हो चुके हैं। अब इसके बाद की तारीख दी जा रही है। इसके लिए भी रात 12 बजे से ही लोग ऑनलाइन आवेदन करने लगते हैं। एक साथ आवेदन ज्यादा होने से 10 मिनट में लाइसेंस बनवाने के लिए तय समय का कोटा पूरा हो जाता है।

इस संबंध में आरटीओ संजय तिवारी ने बताया कि काफी संख्या में लोग आवेदन कर रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए ज्यादा भीड़ न हो इसलिए 100 फीसद लाइसेंस नहीं बनाए जा रहे हैं। जल्द ही वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा रोजाना लाइसेंस बनाने की संख्या में इजाफा करने की मांग की जाएगी। अनुमति मिलते ही लाइसेंस बनाने की संख्या बढ़ाई जाएगी।

फैक्ट फाइल

300 लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस लॉकडाउन से पहले रोजाना बनते थे।

50 लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस अनलॉक-1 में बनाए जा रहे हैं।

250 परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस रोजाना लॉकडाउन के पहले बनते थे।

50 परमानेंट लाइसेंस ही अनलॉक-1 में बनाए जा रहे हैं।

400 तक लर्निंग व परमानेंट लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन हो रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना