Bhopal RTO News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन में ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनवा पाने वाले लोग अनलॉक में विभाग के स्लॉट सिस्टम के कारण परेशान हो रहे हैं। दरअसल, परिवहन विभाग की वेबसाइट पर आवेदन करने के लिए रोजाना 150 स्लॉट निर्धारित किए गए थे, लेकिन लॉकडाउन अवधि में पेंडेंसी 10 हजार तक पहुंच गई। इसे खत्म करने के लिए स्लॉट की व्यवस्था हटा दी गई। इससे लॉकडाउन अवधि वाले और नए आवेदन भी धड़ल्ले से होने लगे। इससे 30 जून तक का कोटा फुल हो गया।

उधर, जिन लोगों के आवेदन लॉकडाउन अवधि में पेंडिंग थे, वे अब ज्यादा परेशान हो रहे हैं, क्योंकि विभाग ने उन्हें आवेदन करने के लिए 30 जून तक का समय दिया गया है और स्लॉट फुल होने से वे आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। हालांकि क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय ने आवेदन की तारीख बढ़ा दी है, ऐसे लोग एक जुलाई के बाद भी आवेदन कर सकते हैं, लेकिन इसे वेबसाइट पर अपडेट नहीं किया है। इससे आवेदन में आगे की तारीख ही नहीं मिल पा रही है।

परिवहन विभाग का ऑनलाइन काम देख रही स्मार्टचिप कंपनी और परिवहन विभाग ने लोगों की सुविधा के लिए स्लॉट खोल तो दिया है, लेकिन आवेदनों की संख्या अधिक होने से कार्यालय परिसर में कोरोना गाइडलाइन का पालन होना आसान नहीं है। पहले भी यहां लोग कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए देखे गए हैं। मालूम हो कि अनलॉक में कोरोना गाइडलाइन का पालन आसानी से किया जाए, इसलिए 150 ड्राइविंग लाइसेंस रोज का स्लॉट तय किया गया था। आरटीओ संजय तिवारी का कहना है कि लॉकडाउन की समयावधि में जिन लोगों के लाइसेंस बनवाने की अंतिम तिथि निकल गई है, उन सभी के कार्य किए जाएंगे। किसी को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags