भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल विदिशा रेल लाइन पर सूखी सेवनिया के पास गुस्र्वार सुबह पांच बजे के करीब तीन साल का मादा तेंदुआ ट्रेन की चपेट में आ गया। इस कारण उसकी मौत हो गई। तीन डाक्टरों के दल ने तेंदुए के शव का पोस्टमार्टम वन विहार में किया । यहीं पर अंतिम संस्कार भी कर दिया गया है।

समरधा परिक्षेत्र के रेंजर शिवपाल पिपरदे ने बताया कि गुरुवार सुबह ओमिनी बीट के पास एक तेंदुआ के मृत पाए जाने की सूचना मिली थी। एसडीओ आरएस भदौरयिा के साथ मौके पर पहंुची वन विभाग की टीम और रेल सुरक्षा बल के अधिकारियों की जांच में सामने आया कि तेंदुआ की मौत ट्रेन की टक्कर से हुई है। पहली बार है जब भोपाल विदिशा रेलखंड पर किसी वन्य प्राणी की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हुई है। बता दें कि भोपाल से नर्मदापुरम के बीच रातापानी अभयारण्य में करीब पांच साल में आठ तेंदुए ट्रेन की चपेट में आने से मर चुके हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रात में ट्रेन की तेज लाइट में तेंदुए को ठीक से दिखाई नहीं देता। इस दौरान वह ट्रैक पर ही बैठ जाता है। इसी कारण हादसा होता है।

सिर में लगी है चोट

तेंदुए का पोस्टमार्टम करने वाले वन विहार के वन्य प्राणी विशेषज्ञ डा. अतुल गुप्ता ने बताया कि ट्रेन की चपेट में आने से तेंदुआ दूर जा गिरा। इस कारण्ा उसके सिर और अन्य अंगों में चोट लगी है। सिर में चोट के कारण ही उसकी मौत हुई है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close