भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। बरकतउल्ला विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों से जुड़े काम जैसे मार्कशीट, डिग्री देने, दस्‍तावेज सत्‍यापन आदि तय समय में करने होंगे। ऐसा नहीं करने पर संबंधित पर न सिर्फ निलंबन, वेतन वृद्धि रोकने जैसी कार्रवाई की जाएगी, बल्कि जुर्माना भी लगाया जाएगा। यह नियम अगले महीने से लागू कर दिया जाएगा। इसे लेकर सारी तैयारियां हो गई हैं। दरअसल बीयू प्रशासन ने स्टूडेंट चार्टर लागू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत विद्यार्थियों से जुड़े हर काम की समयसीमा तय की जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव बीयू की अगली कार्यपरिषद में लाया जाएगा, जिसके बाद इसे लागू कर दिया जाएगा।

दरअसल प्रदेश के विद्यार्थियों को मार्कशीट, डिग्री लेने समेत दस्तावेजों के सत्यापन जैसे छोटे-छोटे कामों के लिए संबंधित विश्वविद्यालयों के चक्कर काटने पड़ते हैं, लेकिन उनके काम नहीं होते हैं। सबसे ज्यादा परेशानी विवि मुख्यालय से दूर रहने वाले खासकर ग्रामीण अंचल के विद्यार्थियों को होती है। हर बार विवि से लेकर कॉलेज प्रशासन उन्हें जल्दी काम होने का आश्वासन देकर चलता कर देता है। इन परेशानियों की सबसे बड़ी वजह यह है कि इन कामों के लिए अब तक प्रशासन ने न कोई समयसीमा तय कर रखी है और न किसी अधिकारी-कर्मचारी को जिम्मेदारी दे रखी है। इसी का फायदा उठाकर विवि के अधिकारी, कर्मचारी विद्यार्थियों को न सिर्फ परेशान करते रहते हैं, बल्कि इन कामों के लिए विद्यार्थियों की तरफ से कर्मचारियों पर रिश्वत मांगने के आरोप भी लगते रहते हैं। हालांकि कार्रवाई किसी पर नहीं हो पाती है। लेकिन अब नई व्यवस्था के बाद विवि की हर शाखा के कर्मचारी-अधिकारी की जिम्मेदारी तय हो जाएगी, जिसके बाद उन्हें तय समयसीमा में काम पूरा करना ही होगा।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags