भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी भोपाल में कोरोना के टीकाकरण को लेकर तैयारियां पूरी हो गई हैं। ग्वाल मोहल्ला निवासी हरदेव यादव को जेपी अस्पताल में पहला टीका लगाया जाएगा। हरिदेव ने बताया कि उन्‍हें देश के वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उसके प्रेरणा स्त्रोत हैं। उन्‍होंने बताया कि कई लोगों के मन में टीके को लेकर संदेह है। इसे दूर करने के लिए वह पहला टीका लगवा रहे हैं। इसके लिए उन्‍होंने अपने परिवार के सभी सदस्यों को भी मना लिया है। हरदेव के बाद सभी निजी अस्पताल संचालकों को भी टीका का पहला डोज लगाया जाएगा।

भ्रांतियां दूर करने स्वयं आगे आए अस्पताल संचालक

फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स में हमीदिया चिकित्सालय, जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित कोरोना के लिए बनाए गए स्टेट नोडल डाक्टर भी शामिल हैं । शहर के प्रमुख निजी अस्पतालों के डाक्टर्स भी वैक्सीनेशन कराएंगे। चिरायु मेडिकल कॉलेज के संचालक डॉ. अजय गोयनका, नर्मदा अस्पताल एवं ट्रामा सेंटर के संचालक डॉ. राजेश शर्मा, सेवानिवृत्त प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष शिशु रोग विभाग एवं वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. एसके त्रिवेदी, गांधी मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. अरुणा कुमार, प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष पल्मोनरी विभाग स्टेट नोडल डाक्टर श्री लोकेंद्र दवे, प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष कम्युनिटी एवं फैमिली मेडिसिन विभाग डॉ. डी.के.पाल, सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी, हमीदिया अस्पताल के संयुक्त संचालक एवं अधीक्षक डॉ. आईडी चौरसिया को पहले दिन वैक्सीन लगाई जाएगी।

स्वास्थ्यकर्मियों ने जाहिर की खुशी

इधर, शुक्रवार देर शाम हमीदिया अस्पताल में टीकाकरण की तैयारियों का जाजया लेने संभागायुक्त कबींद्र कियावत पहुंचे। इस दौरान वैक्सीन के लिए चयनित स्वास्थ्य कर्मियों से बात की। स्वास्थ्यकर्मियों ने इसके लिए खुशी जाहिर की और बताया कि वैक्सीनेशन के लिए सभी व्यवस्थाएं पूर्ण की जा चुकी हैं और सभी इस अभियान के लिए तैयार हैं । कियावत ने कहा कि दूसरे फेज में आम नागरिकों को वैक्सीन दिए जाते समय सभी लोगों को टीके के संबंध में अच्छे से जानकारी देते हुए टीकाकरण करें।

अपील : धर्मगुरु और जनप्रतिनिधि बोले- सुरक्षित है टीका, अफवाहों से बचें

कोरोना से संपूर्ण विश्व परेशान है। मानवता की रक्षा के लिए हिंदुस्तान ने अग्रणी प्रयास किए हैं। दुख के दिन हटेंगे, कम होंगे और खत्म होंगे और जो कोरोना का डर और भय था वह अब नहीं होगा । भारत सरकार और मप्र सरकार के संयुक्त प्रयास से 16 जनवरी को सुबह नौ बजे से भोपाल में टीकाकरण अभियान का शुभारंभ होगा। सबको हृदय से बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। आज हम गर्व से कह सकते हैं कि हिंदुस्तान कोरोना से लड़ा भी और जीता भी।

- रामेश्वर शर्मा, सामयिक अध्‍यक्ष, मप्र विधानसभा

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए कई देशों ने वैक्सीन बना लिया है। उसी क्रम में सबसे आगे भारत भी है। भारत ने भी वैक्सीनेशन की तैयारी कर ली है। कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं। यह हमारी मान्यता के अनुसार गलत है। यह हमारे वैज्ञानिकों, हमारे देश व शासन-प्रशासन का अपमान है। इसलिए हम सब से अनुरोध करते हैं कि विश्वास करके वैक्सीन का उपयोग करें।

- चंद्रमा दास त्यागी, महंत गुफा मंदिर

अध्यात्म और धर्म की इस भारतीय वसुंधरा पर समय-समय पर ऋषि-मुनि होते रहे हैं। इन्होंने जगत के जीवों को सत्य का संदेश दिया और सत्य के संदेश में चार धारणाएं आई जिसका नाम ज्ञानदान, आहार दान, औषधि दान और अभय दान है। आज औषधि दान के निमित्त में एक स्थिति बनी है। कोरोना से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन में लगे समस्त प्रशासन व इस कार्य से जुड़ी सभी टीमों को बधाई।

- जैन मुनि, बाल ब्रह्मचारी

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags