भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। महिलाओं पर टिप्पणी कर महिला संगठनों समेत भाजपा के कोपभाजन बने मध्य प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष व पूर्व मंत्री जीतू पटवारी फिर विवादों में घिर गए हैं। मंदिर में जूते पहनकर जाने पर भाजपा ने उन्हें जमकर फटकारा है। भाजपा की प्रदेश प्रवक्ता राजो मालवीय ने कहा- हिंदू धार्मिक प्रतीकों का अपमान करना कांग्रेस की परंपरा रही है। ऐसे में जीतू पटवारी का मंदिर में जूते पहनकर जाना आश्चर्य की बात नहीं है पर जनता यह जानना चाहती है कि पटवारी को यह संस्कार कहां से मिला।

बुधवार को भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजो मालवीय ने सवाल उठाते हुए पूछा कि क्या यह संस्कारविहीन कांग्रेस पार्टी या फिर उसके असंस्कारी नेताओं से विरासत में मिला है। राजो ने जीतू पटवारी की मंदिर में जूते पहने हुए उस तस्वीर पर प्रतिक्रिया की है जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

मालवीय ने कहा कि भगवान राम को काल्पनिक किरदार बताने वाली कांग्रेस पार्टी हमेशा से हिंदू देवी-देवताओं, धर्मगुरुओं, धार्मिक प्रतीकों और मंदिरों का अपमान करती रही है। कांग्रेस नेता हिंदू मतदाताओं को रिझाने के लिए कभी त्रिपुंड लगाकर खुद को शिवभक्त बताते हैं, कभी जोर-शोर से हनुमान चालीसा पढ़कर रामभक्त होने का ढोंग रचाते हैं, तो कभी जनेऊ धारण कर खुद को हिंदू बताने का स्वांग भरते हैं, लेकिन धर्म का आदर करना, देवी-देवताओं का सम्मान करना और मंदिरों की गरिमा का पालन करना न तो कांग्रेस पार्टी के संस्कार रहे हैं और न ही उसके नेताओं के। हालांकि इस पर जीतू पटवारी क‍ी प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस