निवेश संवर्धन संबंधी मंत्रि परिषद समिति ने चार इकाइयों को निवेश प्रोत्साहन सहायता देने का लिया निर्णय

भोपाल (राज्य ब्यूरो)। मध्य प्रदेश में चार कंपनियां 677 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इससे प्रदेश में 4223 लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंगलवार को मंत्रालय में हुई निवेश संवर्धन संबंधी मंत्रि परिषद समिति की बैठक में मेसर्स अमृत पेपर्स लिमिटेड, मेसर्स एलेंबिक फार्मास्यूटिकल्स, मेसर्स स्वराज सूटिंग लिमिटेड और मेसर्स मराल ओवरसीज लिमिटेड की इकाइयों को निवेश प्रोत्साहन सहायता देने का निर्णय लिया गया।

समिति द्वारा इकाइयों को विद्युत दर में रियायत और राज्य शासन की नीति में अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। बैठक में समिति के सदस्य मंत्री गण, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

ये इकाइयां लगेंगी

मेसर्स अमृत पेपर्स द्वारा धार जिले में 139 करोड़ 15 लाख रुपये के स्थाई पूंजी निवेश से क्राफ्ट पेपर इकाई प्रारंभ की जाएगी। इसमें लगभग 341 व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त होगा। इसी तरह मेसर्स एलेंबिक फार्मास्यूटिकल्स द्वारा 217 करोड़ 17 लाख रुपये के निवेश से नई दवा निर्माण इकाई लगाई जा रही है, जिससे 600 लोगों को रोजगार मिलना प्रस्तावित है।

इसके अलावा मेसर्स स्वराज सूटिंग लिमिटेड द्वारा नीमच जिले में 120 करोड़ 25 लाख रुपये की लागत से यार्न निर्माण की नई इकाई लगाई जा रही है, जिससे 282 लोग रोजगार प्राप्त करेंगे। एक महत्वपूर्ण पूंजी निवेश खरगोन जिले में मेसर्स मराल ओवरसीज लिमिटेड द्वारा 200 करोड़ 90 लाख रुपये की लागत से किया जा रहा है, जिसमें प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से तीन हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। इस संस्थान के वर्तमान टेक्सटाइल यूनिट के विस्तार से यह संभव होगा

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close