भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी भोपाल के तकरीबन 40 इलाकों की सड़कों पर चार रातों से अंधेरा पसरा है। 72 करोड़ रुपये बिजली बिल बकाया होने पर बिजली कंपनी ने स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन काट रखे हैं, जो रुपये जमा न कराने पर जोड़े नहीं जा रहे हैं। हालांकि, निगम अफसरों का दावा है कि दोनों विभाग समन्वय स्थापित कर समस्या सुलझाएंगे, लेकिन विद्युत कंपनी अधिकारी जिद पर अड़े हैं। उनका कहना है कि रुपये जमा होने पर ही कनेक्शन पुन: जोड़ेंगे। हालांकि, राहत की बात ये है कि कोलार फिल्टर प्लांट के कनेक्शन को काटने पर कंपनी ने कोई निर्णय नहीं लिया है। इससे शहर के 70 फीसद क्षेत्रों में जलप्रदाय व्यवस्था प्रभावित नहीं हुई है।

बिजली कंपनी का नगर निगम पर शहरी क्षेत्रों व कोलार फिल्टर प्लांट का कुल 101 करोड़ रुपये बकाया है। इनमें 72 करोड़ रुपये स्ट्रीट लाइट एवं 29 करोड़ रुपये फिल्टर प्लांट के है। निगम की वित्तीय हालत गड़बड़ाने के कारण अप्रैल-20 से बिजली बिल के भुगतान की व्यवस्था प्रभावित हो रही है। इस कारण बीते एक साल से निगम एवं कंपनी के बीच बकाया राशि को लेकर ठन रही है। आपसी खींचतान का नतीजा यह रहा कि कंपनी ने शहर के 40 क्षेत्रों की सड़कों की स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन काट दिए। कार्रवाई 20 फरवरी को की गई थी। इस कारण लगातार चौथी रात सड़कों पर अंधेरा कायम रहा।

इन क्षेत्रों में अंधेरा

कमला पार्क क्षेत्र, एमपी नगर, नेहरू नगर, शिवाजी नगर, चेतक ब्रिज, तुलसी नगर, अरेरा कॉलोनी, छोला रोड, गर्वमेंट प्रेस क्षेत्र, भोज सेतु समेत कई सड़कों की स्ट्रीट लाइट बंद है। कई क्षेत्रों में लाइट चालू करने के बाद फिर बंद भी कर दी गई।

परेशानी जनता की

सड़कों पर अंधेरा होने से जनता की परेशानी बढ़ गई है। कई सड़कें रात में वीरान रहती हैं। ऐसे में कोई अपराधिक घटना होने की आशंका भी बनी रहती है। सर्व-धर्म कॉलोनी से बैरागढ़ चीचली के बीच भी कई स्ट्रीट लाइट बंद हैं। नगर निगम का कहना है कि उसका विद्युत कंपनी पर भी करोड़ों रुपये बकाया है। यह राशि समायोजित भी की जा सकती है।

चार दिन पहले स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन काटे गए थे, लेकिन निगम ने अब तक राशि जमा नहीं कराई है। इस संबंध में लगातार चर्चा की जा रही है। फिल्टर प्लांट के कनेक्शन के संबंध में अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। -डीके तिवारी, ईई, नॉर्थ डिवीजन बिजली कंपनी

दोनों विभाग समन्वय स्थापित कर समस्या सुलझा रहे हैं। कुछ क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट चालू करवा दी गई हैं। यदि पुन: बंद की गईं तो चर्चा की जाएगी। -केवीएस चौधरी कोलसानी, निगमायुक्त

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags